• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

जनजाति क्षेत्र के विकास के लिए राजस्थान ने किए सराहनीय प्रयास - अध्यक्ष, राष्ट्रीय जनजाति आयोग

Rajasthan made commendable efforts for the development of tribal area - Jaipur News in Hindi

जयपुर। राष्ट्रीय जनजाति आयोग के अध्यक्ष डाॅ. नंद कुमार साय ने जनजाति क्षेत्र के विकास के लिए चलाई जा रही राज्य सरकार की योजनाओं की खुलकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि जनजाति विकास की दिशा में राजस्थान सरकार ने सराहनीय प्रयास किए हैं। योजनाओं की पर्याप्त माॅनिटरिंग एवं प्रभावी क्रियान्वयन से प्रदेश के जनजाति क्षेत्र में बडे़ बदलाव नजर आ रहे हैं।
डाॅ. साय सोमवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ मुख्यमंत्री कार्यालय में हुई आयोग की बैठक में प्रदेश में आयोग के दौरे के बारे में अनुभव साझा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार द्वारा वीरबाला कालीबाई के नाम से शुरू की गई स्कूटी योजना के प्रति प्रदेश की जनजाति क्षेत्र की बालिकाओं में काफी उत्साह है। हाॅस्टलों में मेस राशि 2000 से बढ़ाकर 2500 रूपये प्रति छात्र करने की भी उन्होंने काफी सराहना की।
मुख्यमंत्री ने आयोग अध्यक्ष को बताया कि राजस्थान में मनरेगा में लोगों को काफी रोजगार मिला है। हमारी सरकार आने के बाद पिछले 8 माह में मनरेगा में रोजगार पाने वालों की संख्या 9 लाख से बढ़कर 32 लाख तक पहुंच गई है। इसमें सर्वाधिक वृद्धि जनजाति क्षेत्र में हुई है।

गहलोत ने बताया कि प्रदेश में वन अधिकार अधिनियम के तहत पूर्व में निरस्त करीब 36 हजार दावों का अभियान चलाकर पुनरीक्षण किया जा रहा है। जनजाति क्षेत्र में रोजगार के अधिकाधिक अवसर उपलब्ध करवाने के लिए कैरियर काउंसलिंग एवं रोजगार मेलों का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने आयोग अध्यक्ष को बताया कि टीएसपी क्षेत्र में एसटी अभ्यर्थियों के लिए 45 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान हमारी पिछली सरकार के समय हुआ था, इसका लाभ जनजाति वर्ग के अभ्यर्थियों को विभिन्न नौकरियों में मिला है। मुख्यमंत्री ने आयोग अध्यक्ष से कहा कि जनजाति क्षेत्रों के विकास की दिशा में राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों में किसी तरह की कमी हो और आगे सुधार की गुंजाइश हो तो आयोग अपने सुझाव दे। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार जनजाति कल्याण के लिए पूरी तरह संकल्पित है। इस दिशा में अच्छे प्रयास आगे भी जारी रहेंगे।
डाॅ. साय ने जनजाति क्षेत्र के गांवों में सामुदायिक पट्टों पर विशेष ध्यान देने, रोजगार शिविर में शामिल होने वाले युवाओं की काउंसलिंग करने और पुलिस अनुसंधान प्रक्रिया मजबूत करने जैसे सुझाव दिए।
आयोग अध्यक्ष एवं सदस्यों ने पिछले 5 दिन में आबू रोड, सिरोही, उदयपुर, डूंगरपूर तथा जयपुर मंे राष्ट्रीय जनजाति आयोग द्वारा किए गए दौरे, जन सुनवाई, निरीक्षण एवं स्थानीय संगठनों के साथ हुई बैठकों का उल्लेखक करते हुए राज्य सरकार द्वारा जनजाति क्षेत्र में करवाये गये विकास कार्यों की जमकर तारीफ की।
बैठक में जनजाति राज्यमंत्री सुरेन्द्र बामणिया, राष्ट्रीय जनजाति आयोग के सदस्य हरिकृष्ण डामोर, हर्षदभाई चुन्नीलाल वसावा, माया चिन्तामण ईवनाते, मुख्य सचिव डी.बी. गुप्ता, अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव स्वरूप, पुलिस महानिदेशक डाॅ. भूपेन्द्र सिंह, राष्ट्रीय जनजाति आयोग के सचिव ए.के. सिंह एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Rajasthan made commendable efforts for the development of tribal area
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: tribal area, national tribal commission chairman dr nand kumar, chief minister ashok gehlot, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, jaipur news, jaipur news in hindi, real time jaipur city news, real time news, jaipur news khas khabar, jaipur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved