• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

आईएएस राजीव स्वरूप के मामले को लेकर मोदी सरकार ने दिया ब्यूरोक्रेसी को कड़ा संदेश, यहां पढ़ें

Modi government gave strong message to bureaucracy about IAS Rajiv Swaroop case, - Jaipur News in Hindi

जयपुर । राजस्थान के मुख्य सचिव के सेवा विस्तार को लेकर आखिरकार वहीं हुआ, जिसके बारे में अकटलें लगाई जा चुकी थी मुख्य सचिव पद पर आईएएस राजीव स्वरूप को तीन माह का सेवा विस्तार नहीं मिल सका। हालांकि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के अलावा खुद राजीव स्वरूप ने अपने स्तर पर प्रयास भी किए लेकिन सफल नहीं हो सके। फिर शनिवार देर रात जैसा राजस्थान में तबादलों को लेकर परिपाटी रही है कि रात के 12 या 1 बजे या 2 बजे, या कभी-कभी तड़के 4 बजे तबादला सूची जारी होती है। पता नहीं कौन सा मंथन होता है इस तबादला सूची को लेकर चाहे आईएएस की हो, या आरएएस अफसरों की, राजस्थान में मीडियाकर्मियों को देर रात तक इंतजार करना पड़ता है।

आईएएस राजीव स्वरूप के मामले को लेकर मोदी सरकार ने एक साफ संदेश दे दिया है कि ब्यूरोक्रेसी को दलगत राजनीति से दूर रहना होगा । किसी के दबाव में कोई भी गलत काम नहीं करना चाहिए। हालांकि इस मामले को लेकर ऱ्फोन टैपिंग प्रकरण को लेकर केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत की नाराजगी बताई जा रही है। उस दौरान एसीएस होम राजीव स्वरूप ही थे। हो सकता है कि शेखावत के कारण ही मुख्य सचिव के पद पर राजीव स्वरूप को सेवा विस्तार नहीं मिल सका हो। लेकिन पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के कार्यकाल के दौरान भी ब्यूरोक्रेसी मैडम के अलावा किसी का कहना नहीं मानती थी।


वहीं अगर कोई आईएएस मैडम का कहना नहीं मानता था तो दिल्ली के लिए प्रतिनियुक्ति की फाइल तत्काल क्लीयर हो जाती थी। पूर्व वसुंधरा के कार्यकाल में एक केंद्रीय मंत्री की पीड़ा यही थी, कि यहां राजस्थान की ब्यूरोक्रेसी केंद्र का कहना ही नहीं मानती थी।खैर निरंजन आर्य, तो पूर्ववर्ती वसुंधरा सरकार के कार्यकाल के दौरान विभागीय जांच के पद पर नियुक्त थे. वह अब एसीएस फायनेंस के पद से पदोन्नत होकर मुख्य सचिव बन चुके है। आर्य के चलते तीन वरिष्ठ आईएएस अफसरों को शासन सचिवालय से बाहर नियुक्ति दी गई है। जिसमें वीनू गुप्ता, सुबोध अग्रवाल, राजेश्वर सिंह मुख्य है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Modi government gave strong message to bureaucracy about IAS Rajiv Swaroop case,
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: jaipur news, jaipur hindi news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, jaipur news, jaipur news in hindi, real time jaipur city news, real time news, jaipur news khas khabar, jaipur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2021 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved