• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

मई तक जयपुर में सफर होगा और आरामदायक, कम होगा प्रदूषण

jaipur news : until May Traveling in Jaipur will be comfortable, Low pollution - Jaipur News in Hindi

जयपुर। गुलाबीनगरी के लोगों का मेट्रो का सपना पूरा होने के बाद अब एक और तोहफा मिलने वाला है। इसके बाद जयपुर के लोगों का शहर में सफर और आसान हो जाएगा। भारी यातायात के दबाव और बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए जयपुर में इलेक्ट्रिक बसें चलाई जाएंगी। इससे प्रदेश में आने वाले पर्यटकों में भी आकर्षण बढ़ेगा। सब कुछ ठीक रहा तो अप्रैल-मई तक दिल्ली, जयपुर, इंदौर और अहमदाबाद में ये इलेक्ट्रिक बसें दौड़ने लगेंगी। मार्च, 2018 तक इलेक्ट्रिक बसों की खरीदारी का काम भी पूरा हो जाएगा।

प्रदूषण मुक्त भारत के लिए भारी उद्योग मंत्रालय सार्वजनिक इलेक्ट्रिक बसों की खरीदारी के लिए सब्सिडी दे रहा है। मंत्रालय ने 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों में इलेक्ट्रिक बसों को सार्वजनिक परिवहन में शामिल करने के लिए एक्सप्रेशन ऑफ इंट्रेस्ट जारी किया था। दिल्ली, जयपुर, इंदौर, अहमदाबाद, बेंगलुरू , मुंबई, लखनऊ, कोलकाता व हैदराबाद में 40-40 इलेक्ट्रिक बसें खरीदी जाएंगी। बसों के साथ इलेक्ट्रिक चार्जर के लिए अलग से पैसा भी मिलेगा। सब्सिडी के लिए शहर की जनसंख्या 2011 जनगणना के मुताबिक 10 लाख से अधिक होनी चाहिए। वर्ष 2016 के आंकड़ों के मुताबिक शहर की हवा में प्रदूषण का औसत 2.5 पीएम होना चाहिए।

सैटेलाइट से जुड़ेंगे इंजन

रेलवे ट्रेन हादसों को रोकने की दिशा में भी कदम उठा रहा है। अब ट्रेन के इंजनों को भी सैटेलाइट से जोड़ा जाएगा। ट्रेनों की सही ट्रैकिंग के लिए साल के अंत तक सभी 10,800 रेल इंजनों (लोकोमोटिव) को इसरो सैटेलाइट से जोड़ा जाएगा। इससे लोको पायलट को तत्काल सूचित कर हादसे रोके जा सकेंगे। बोर्ड के वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार इससे ट्रेन की स्थिति का पता लगाना और क्रू के सदस्यों से संपर्क करना आसान होगा। इसके तहत सभी 10,800 इंजनों में एंटीना लगाए जाएंगे और चालक कक्ष (क्रू केबिन) के अंदर से इसकी निगरानी की जाएगी।

पहले हो चुकी ट्रायल

रेलवे ट्रायल के तौर पर पहले 10 इंजनों में इसे लगाकर देख चुका है। दिसंबर 2018 तक यह प्रणाली इंजनों में लगाई जाएगी। इस सिस्टम का ट्रायल नई दिल्ली-गुवाहाटी और नई दिल्ली-मुंबई रूट पर भी6 इलेक्ट्रिक इंजनों पर किया जा चुका है।

पर्यटकों को भी सहूलियत
जयपुर में मेट्रो चलने के बाद इलेक्ट्रिक बसें चलने के बाद पर्यटकों का शहर के प्रति आकर्षण बढ़ेगा और पर्यटकों को भी सहलियत होगी।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-jaipur news : until May Traveling in Jaipur will be comfortable, Low pollution
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: jaipur news, traveling in jaipur, low pollution in jaipur, pollution in jaipur, ministry of heavy industries and public enterprises, electric bus in jaipur, pollution free india, jaipur tourism, public transport in jaipur, rajasthan tourism, indian railway, gps on train engines, train accident, jaipur hindi news, jaipur latest news, rajasthan hindi news, जयपुर समाचार, राजस्थान समाचार, भारी उद्योग मंत्रालय, इलेक्ट्रिक बस, जयपुर में इलेक्ट्रिक बस, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, jaipur news, jaipur news in hindi, real time jaipur city news, real time news, jaipur news khas khabar, jaipur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved