• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

ड्रोन के माध्यम से रेगिस्तानी टिड्डियों को नियंत्रित करने वाला दुनिया का पहला देश बना भारत

India became the first country in the world to control desert locusts through drones - Jaipur News in Hindi

जयपुर ।टिड्डी नियंत्रण के लिए ड्रोन की तैनाती कर भारत ने टिड्डी नियंत्रण की दिशा में एक और बड़ी उपलब्धि हासिल की है। ऐसा करने वाला भारत दुनिया का पहला देश बन गया है। राजस्थान के बाड़मेर, जैसलमेर, बीकानेर, नागौर और फलोदी (जोधपुर) में चरणबद्ध तरीके से 12 ड्रोन की तैनाती का काम शुरू कर दिया गया है। ड्रोन का उपयोग दुर्गम क्षेत्रों और ऊंचे पेड़ों पर टिड्डी नियंत्रण में आशा से अधिक संतोषजनक रहा है। रेगिस्तानी टिड्डियों पर प्रभावी नियंत्रण के लिए ड्रोन की तैनाती ने टिड्डी सर्कल कार्यालयों की क्षमताओं में वृद्धि की है। संयुक्त राष्ट्र के खाद्य और कृषि संगठन ने भारत के इस प्रयास के सराहना की है।

एक समीक्षा बैठक के दौरान केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने निर्देश दिया था कि टिड्डी नियंत्रण के लिए ड्रोन की तैनाती की जानी चाहिए। चूंकि नागरिक उड्डयन मंत्रालय की मौजूदा नीति में कीटनाशकों के पेलोड के साथ ड्रोन के उपयोग की अनुमति नहीं है, इसलिए कृषि, सहकारिता और किसान कल्याण विभाग ने नागरिक उड्डयन मंत्रालय से इसकी अनुमति मांगी। 21 मई को अनुमति मिले के बाद ड्रोन, हवाई जहाज और हेलीकॉप्टरों से कीटनाशकों के हवाई छिड़काव की मानक परिचालन प्रक्रिया को केंद्रीय कीटनाशक बोर्ड द्वारा अनुमोदित किया गया। टिड्डी नियंत्रण के लिए कीटनाशकों के छिड़काव के लिए ड्रोन की सेवाएं प्रदान करने के लिए जयपुर (राजस्थान) और शिवपुरी (मध्य प्रदेश) की दो फ़र्मों को पैनल पर रखा गया है।

भारत ने टिड्डी नियंत्रण के काम आने वाले स्प्रेयर वाहन देश में ही विकसित करने में भी सफलता हासिल कर ली है। अल्ट्रा लो वॉल्यूम (यूएलवी) स्प्रेयर लगे इन वाहनों का राजस्थान के अजमेर और बीकानेर जिलों में सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया है। अब इस स्प्रेयर वाहन के वाणिज्यिक लॉंच के लिए आवश्यक स्वीकृतियां लेने की कार्यवाही चल रही है। इसके वाणिज्यिक उत्पादन के साथ ही टिड्डी नियंत्रण में महत्वपूर्ण इस उपकरण के आयात पर भारत की निर्भरता समाप्त हो सकेगी। कृषि, सहकारिता और किसान कल्याण विभाग के मशीनीकरण और प्रौद्योगिकी प्रभाग को एक भारतीय निर्माता के माध्यम से इस स्प्रेयर का प्रोटोटाइप विकसित करने में मिली सफलता से यह संभव हुआ है। वर्तमान में स्प्रेयर वाहन इंगलैंड के एक फर्म से खरीदा जा रहा है। इस फर्म को 60 स्प्रेयरों की आपूर्ति के लिए फरवरी 2020 में आदेश दिये गए थे। अब तक केवल 15 स्प्रेयर मिले हैं। बाकी 45 इकाइयों की आपूर्ति एक महीने के भीतर होने की संभावना है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-India became the first country in the world to control desert locusts through drones
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: desert locusts, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, jaipur news, jaipur news in hindi, real time jaipur city news, real time news, jaipur news khas khabar, jaipur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved