• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

जयपुर: इटली से आए दंपत्ति में कोरोना वायरस की पुष्टि

Chief Minister Ashok Gehlot said, Follow the guidelines of the central government, there should be complete screening of suspected patients - Jaipur News in Hindi

जयपुर। पूरे विश्व में आहाकार मचा रहा काेरोना वायरस अब राजधानी जयपुर में अपने पांव पसारने को तैयार है। जयपुर में कोरोना वायरस से पीड़ित दो संदिग्ध मामले सामने आए हैं। जानकारी के अनुसार राजधानी जयपुर के सवाईमानसिंह अस्पताल में इटली के नागरिक के करोना वायरस की पुष्टि के बाद उसकी पत्नी को भी करोना वायरस की पुष्टिकी गई है।

कोरोना वायरस पर सीएम गहलोत ने ली थी बैठक: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को मुख्यमंत्री निवास पर आयोजित एक उच्च स्तरीय बैठक में कोरोना वायरस से निपटने के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा बचाव एवं रोकथाम के लिए की जा रही व्यवस्थाओं की समीक्षा की।
कोरोना वायरस के एक संदिग्ध रोगी इटली के नागरिक के सवाई मानसिंह अस्पताल में भर्ती होने एवं यहां किए गए टेस्ट में पॉजिटिव पाए जाने के बाद आयोजित इस समीक्षा बैठक में गहलोत ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि इस वायरस के संबंध में केन्द्र सरकार की गाइडलाइन को पूरी तरह फोलो किया जाए और किसी भी व्यक्ति में इस वायरस से संबंधित कोई लक्षण नजर आए तो उसकी पूरी स्कि्रनिंग करवाई जाए। उन्होंने कहा कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग यह सुनिश्चित करे कि कोरोना वायरस को लेकर जनता में किसी तरह का भय नहीं हो। विभाग पूरी मेडिकल सुविधाएं उपलब्ध कराए ताकि स्कि्रनिंग से लेकर इलाज में भी कोई कमी नहीं आए।
मुख्यमंत्री ने कहा कि इटली से आए इस संदिग्ध रोगी की ट्रेवल हिस्ट्री की जानकारी लेकर उन लोगों की स्कि्रनिंग की जाए, जिनसे यह व्यक्ति प्रदेश में अपनी यात्रा के दौरान सम्पर्क में आया है। उन्होंने कहा कि ऎसी व्यवस्था की जाए कि स्कि्रनिंग के दौरान अन्य किसी व्यक्ति में इस वायरस के लक्षण दिखाई दें तो उसे होम आईसोलेशन अथवा हॉस्पिटल में आईसोलेशन वार्ड में रखा जाए।

गहलोत ने सवाई मानसिंह मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. सुधीर भण्डारी एवं वरिष्ठ चिकित्सों को निर्देश दिए कि स्कि्रनिंग एवं संदिग्ध रोगियों को आईसोलेशन में रखने के पुख्ता बंदोबस्त किए जाएं।

बैठक में अधिकारियों ने बताया कि संदिग्ध रोगी 28 फरवरी को जयपुर पहुंचे 20 लोगों के इटली के समूह में शामिल था और इसी दिन रात को उसे फोर्टिस अस्पताल ले जाया गया था। जहां से 29 फरवरी को उसे फोर्टिस सवाई मानसिंह चिकित्सालय लाया गया। यहां उसकी स्वाइन फ्लू एवं कोरोना वायरस से संबंधित जाचें की गई जिनका परिणाम नेगेटिव आया था।

संदिग्ध रोगी के सोमवार को फिर से किए गए सैकण्ड स्क्रीनिंग टेस्ट में पॉजिटिव परिणाम आने के बाद उसे एसएमएस अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड के आईसीयू में रखा गया है और सभी तरह की सावधानियां बरती जा रही हैं। उन्होंने बताया कि मरीज का सैम्पल नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी, पुणे भेजा गया है। जिसकी रिपोर्ट अभी प्राप्त नहीं हुई है। संदिग्ध रोगी के बारे में इटली के दूतावास को जानकारी दे दी गई है।
बैठक में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा, मुख्य सचिव डी.बी.गुप्ता, अतिरिक्त मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य रोहित कुमार सिंह, चिकित्सा शिक्षा सचिव वैभव गालरिया, सवाई मानसिंह मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. सुधीर भण्डारी एवं एसएमएस अस्पताल के अन्य वरिष्ठ चिकित्सक भी शामिल हुए।

यह भी पढ़े

Web Title-Chief Minister Ashok Gehlot said, Follow the guidelines of the central government, there should be complete screening of suspected patients
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: jaipur, rajasthan, chief minister ashok gehlot, high level meeting, corona virus, department of medicine and health, central government guidelines, one suspected patient of corona virus, citizen of italy, sawai mansingh hospital, medical and health minister dr raghu sharma, chief secretary db gupta, rohit kumar singh, vaibhav galaria, sawai mansingh medical college, dr sudhir bhandari, jaipur news, rajasthan news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, jaipur news, jaipur news in hindi, real time jaipur city news, real time news, jaipur news khas khabar, jaipur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2021 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved