• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 6

नेतृत्वहीन बंद में सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद

जयपुर। कथित भारत बंद को लेकर समूचे राजस्थान प्रदेश में खौफ छाया हुआ है। राज्य में जनजीवन सामान्य है। कहीं किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। हालांकि बंद का खौफ बरकरार है। खौफ 2 अप्रैल को फैली हिंसा के मद्देनजर है। सड़कें सूनी नजर आ रही हैं। 2 अप्रैल को बसों को पहुंचे नुकसान के चलते आज बसें भी कम ही चल रही हैं। व्यापारिक प्रतिष्ठान में भी स्वेच्छिक बंद है।

संभवतया ऐसा पहली बार है जब बिना किसी की अगुआई में भारत बंद आहूत किया गया है। अब तक किसी संगठन ने इस बंद की जिम्मेदारी नहीं ली है। दरअसल यह बंद नहीं, भय है। इस बंद के भय का जिम्मेदार है सोशल मीडिया। सोशल मीडिया में 2 अप्रैल को दलित आंदोलन के दौरान फैली हिंसा के बाद से ही 10 अप्रैल को सवर्ण समाज की आेर से बंद का आह्वान किया गया था। इस बंद का निवेदक सवर्ण और ओबीसी वर्ग को बताया गया था।

अब तक इस बंद का किसी संगठन विशेष ने सामने आकर समर्थन नहीं किया है। फिर भी बंद है। जब कोई किसी आंदोलन की अगुआई नहीं करता तो अराजकता उत्पन्न हो जाती है। इसी अराजक ताकतों से निपटने के लिए कथित बंद के दौरान देश और राज्य की सरकारों की ओर से पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। केंद्र सरकार की ओर से कहा गया है कि बंद के दौरान यदि हिंसा होती है तो उसकी जिम्मेदारी डीएम और एसपी की होगी। केंद्र सरकार ने राज्यों को सुरक्षा व्यवस्था मजबूत करने को कहा है। इधर राज्य सरकार ने कहा कि कोई भारत बंद नहीं है। वहीं प्रदेश में कानून व्यवस्था खराब करने वाली ताकतों से सरकार सख्ती से निपटने की बात भी कही है। राज्य सरकार की ओर से कलेक्टर-एसपी को सख्ती बरतने के निर्देश दिए गए हैं। डेढ़ दर्जन से अधिक शहरों में केंद्रीय अर्द्ध सैनिक बलों की 30 कंपनियां तैनात की गई है। ये कंपनियां पुलिस को सहयोग करेंगी। हिंसा न फैले इसके लिए प्रदेश में कल रात से धारा 144 लागू कर दी गई है।

भारत बंद की यह कहानी 2 अप्रैल को फैली हिंसा के बाद बनाई गई है। इस कहानी के लेखक, कैरेक्टर्स सोशल मीडिया यूजर्स हैं। इसलिए बंद के दौरान संभावित हिंसा से निबटने के लिए सबसे पहले मोबाइल इंटरनेट सेवा को रोका गया है। जयपुर कमिश्नरेट पुलिस सोशल मीडिया पर चल रहे प्रस्तावित आंदोलन को लेकर अलर्ट पर है। किसी भी अप्रिय घटना से निबटने के लिए आज जयपुर में फ्लैगमार्च निकाला गया। जयपुर कमिश्नरेट को पुलिस के साथ आरएसी की कंपनियां दी गई हैं और 7 सीआरपीएफ की कंपनियों शहर में हर मुख्य मार्ग व चौराहों पर तैनात कर दी गई है। शहर के प्राइवेट स्कूलों ने छुट्‌टी की घोषणा रात में ही एसएमएस भेजकर दी।




ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Bharat bhand: Tight Security arrangements in Rajasthan during headless shutdown
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: bharat bandh, rajasthan bandh, bharat bhand, security arrangements, headless shutdown, tight security in rajasthan, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, jaipur news, jaipur news in hindi, real time jaipur city news, real time news, jaipur news khas khabar, jaipur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved