• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

एचपी की डीजल तेल पाईप लाईन से डीजल चोरी करने का मुख्य आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार

The main accused of stealing diesel arrested from Delhi - Jaipur News in Hindi

जयपुर। राजधानी पुलिस ने हिन्दुस्तान पेट्रोलियम की डीजल तेल पाईप लाईन से तेल चोरी करने वाले मुख्य आरोपी स्वर्ण सिंह को दिल्ली से धरदबोचा है।

पुलिस उपायुक्त जयपुर पश्चिम विकास कुमार शर्मा ने बताया कि चौमूं सर्किल में काफी समय से हिन्दुस्तान पेट्रोलियम की डीजल तेल पाईप लाईन से डीजल एंव पेट्रोल चोरी होने की अपुष्ट जानकारी प्राप्त हो रही थी ।

इस पर एक टीम गठित की गई थी और इस साल 18 जून को थाना चौमूं के कांस्टेबल राजेश कुमार को चोरी के डीजल की पिकअप वाहन से परिवहन करने की सूचना प्राप्त होने पर थानाधिकारी चौमूं ने राधास्वामी बाग के सामने नाकाबंदी शुरू की जिस पर एक पिकअप डीजल की भरी हुयी पकड़ी गई। इस पिकअप के चालक से पूछताछ में मिली अहम जानकारी को डवलप करते हुये थाना चौमूं की टीम ने राजावास पंहुच कर एक अन्य पिकअप, दो मोटरसाईकिल जब्त की एंव आरोपीगण शिम्भु सैनी, मुकेश जाट, दिनेश मीणा, धमेन्द्र सिंह एंव ओमप्रकाश शर्मा को गिरफ्तार किया गया था। मुकदमे के अनुसंधान में उक्त गोरखधंधे की परत दर परत खुलती गयी तथा इस समग्र आपराधिक कृत्य में कई सरगनाओं का नाम सामने आया। जिसमें लखनऊ निवासी अंकित दुबे एंव बलजीत सिंह उर्फ जीत विक्रम सिंह को भी गिरफ्तार किया गया। इसके अलावा अन्य आरोपी अरविन्द शर्मा, अरविन्द चौधरी, राहुल देव शर्मा, जितेन्द्र सिंह को भी गिरफ्तार किया गया, इनसे पूछताछ करने पर उक्त गैंग का मुख्य सरगना सरदार स्वर्णसिंह का नाम सामने आया जो डीजल पाईप चोरी करने का आदतन अपराधी है और भारत में कई जगह डीजल चोरी की वारदातों को अंजाम दे चुका है।


इन अभियुक्तों की गिरफ्तारी होने पर मुख्य सरगना स्वर्ण सिंह भूमिगत हो गया तथा अपने समस्त प्रकार के मोबाईल बंद करके दिल्ली में बार-बार अपने ठिकानों को बदलता रहा। इसके अलावा अमृतसर, लुधियाना आदि जगह भी छुपता रहा। उक्त मुख्य सरगना की तलाश में थाना मुरलीपुरा की टीम को तलाश के लिए भिजवाया गया लेकिन उक्त मुख्य सरगना सरदार स्वर्ण सिंह चालाकी पूर्वक अपने ठिकाने बदलते रहने के कारण कामयाबी नहीं मिल पायी । लेकिन सरदार स्वर्णसिंह की प्रत्येक गतिविधि पर जयपुर पुलिस एवं जिला जयपुर पश्चिम के साईबर सैल के तकनीकी विशेषज्ञों की गहरी नजर थी। तकनीकी विशेषज्ञ से पुख्ता आउटपुट मिलने पर पुलिस टीम ने लगातार तीन दिन तक अथक प्रयास के बाद दिल्ली से आरोपी सरदार स्वर्ण सिंह को उसके नये ठिकाने से धर दबोचा ।

ट्रकों से डीजल चोरी करते करते पाईप लाईन से चोरी करने का सफर


सरदार स्वर्णसिंह पूर्व में ट्रक चालक था जो अपने मालिक की नजर चुराकर ट्रकों से डीजल चोरी करके बेचा करता था। एक बार में 100-150 लीटर डिजल चोरी करके बेच देता था। उक्त आरोपी को डिजल चोरी का चस्का उसी समय से लग गया था धीरे-धीरे इसका डीजल चोरी से जुडे हुये लोगों से सम्पर्क बढता गया और चोरी करते करते यह डीजल पाईप लाईन में सेंधमारी करके चोरी करने लगा। डीजल चोरी के आरोप में सन 1992 में मुल्जिम पहली बार तिहाड जेल गया था तब से उक्त मुल्जिम डीजल चोरी की अपराध की दुनिया का मास्टर मांइड बन गया। राजस्थान के अलावा उसने अब तक हरियाणा दिल्ली व पंजाब में भारत सरकार की तेल पाईप लाईनों से डीजल चोरी की वारदातें करना स्वीकार किया है।
अब तक की गई पूछताछ के दौरान यह तथ्य सामने आया है कि मुल्जिम अपने सहयोगीयों के साथ सबसे पहले सुनसान एवं सुरक्षित कम आबादी वाले क्षैत्र से गुजर रही पाईपलाईन को तलाश करते थे उसके बाद लाईन से 15-20 मीटर की दूरी पर कोई खाली मकान तलाश कर उसे किराये पर लेते थे व सुरंग बनाने में माहिर दिल्ली व पंजाब से विशेषज्ञ मजदूर बुलाकर जमीन से 8-10 फीट गहराई पर 4-5 फीट उंची व लगभग 3-4 फीट मजबूत सुरंग बनाते थे। सुरंग बनने के बाद पाईपलाईन में छेद कर वाॅल लगाने में महारत हासिल शमशेर निवासी यूपी को बुलाकर पाईपलाईन में छेद निकलवाकर वाॅल एवं कंट्रोल वाॅल लगवाते थे इस काम के बदले उसे एक मुश्त 50,000/- रूपये नगद व बाद में हिस्सा देते थे। उक्त वारदात के दौरान भी हरमाडा इलाके में राजावास के पास स्थित बालाजी विहार से गुजर रही हिन्दुस्तान पेट्रोलियम की लाईन को चिन्हित किया गया और लाईन के पास दिल्ली निवासी चन्दप्रकाश शर्मा के मकान को गत वर्ष अगस्त माह में पूर्व में गिरफ्तारशुदा अंकित दुब्बे के नाम पर किराये पर लिया गया इसके बाद साथी मुल्जिम बलजीत द्वारा जिसे भी गिरफ़्तार किया जा चुका है। दादी के फाटक से मजदूर लाये गये लेकिन उक्त मजदूरों से सुरंग बनाने का काम नही हो पाया तो स्वर्ण सिंह ने दिल्ली निवासी अपनी दूसरी बीवी के भाई रिंकु वर्मा व उसके साले राकेश, कपिल तथा लूधियाना पंजाब से सनी, जिन्दर व रज्जी को बलजीत के साथ लाया गया। इन लोगों ने लगभग तीन माह में चन्द्रप्रकाश शर्मा के मकान से लेकर तेल पाईपलाईन तक सुरंग बना ली इसके बाद शमशेर से उक्त लाईन में वाॅल लगाकर डीजल चोरी करना शुरू कर दिया डीजल गंध आस पास से गुजरने वालें लोगों को नहीं आये इसलिये सावधानी के तौर पर उस मकान में फिनाईल बनाने का छोटा मोटा कारोबार भी दिखावे के लिये करते थे। सुरंग खोदने का कार्य रात के समय ही करते थे और निकलने वाले मिट़टी को कट़टों में भरकर आस पास के खाली प्लाटों में फेला देते थे। सरगना डीजल पाईपलाईनों से तेल चोरी का सुव्यवस्थित एवं संगठित तरीके से अपराध करता रहा है साथ ही इतना शातिर है कि कभी भी आसानी से पुलिस पकड में नहीं आया।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-The main accused of stealing diesel arrested from Delhi
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: crime news, crime news rajasthan, crime news jaipur, crime news in hindi, jaipur news, jaipur news in hindi, real time jaipur city news, real time news, jaipur news khas khabar, jaipur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

क्राइम

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved