• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

NEET-2018: सोच-समझकर करें भाषा का चयन, दूसरा मौका नहीं मिलेगा

NEET-2018-Choose language Thinking Consistently, will not get second chance for change language - Jaipur News in Hindi

जयपुर। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) की ओर से एमबीबीएस और बीडीएस (MBBS & BDS) कोर्सेज में प्रवेश के लिए होने वाली नीट (NEET-2018) का आयोजन 6 मई को होना प्रस्तावित है। नीट के जरिये स्टूडेंट्स विभिन्न सरकारी तथा निजी कॉलेजों में प्रवेश ले सकते हैं। नीट का पेपर 11 भाषाओं में आएगा। स्टूडेंट्स सोच-समझकर भाषा का चयन करें। भाषा बदलने का मौका दोबारा नहीं मिलेगा। यह पहली बार है जब नीट एग्जाम में उर्दू का पेपर आएगा। सीबीएसई स्पष्ट कर चुका है कि सभी भाषाओं होने वाले पेपर का डिफिकल्टी लेवल एक समान रहेगा।

इन दिनों नीट के फॉर्म भरने को लेकर काउंसलर्स के यहां स्टूडेंट्स की भीड़ लगी हुई है। स्टूडेंट्स की हर क्वेरी का काउंसलर्स समाधान कर रहे हैं। स्टूडेंट्स सीबीएसई दफ्तर में भी फोन कर पूछताछ कर रहे हैं। नीट को लेकर सीबीएसई ने एफएक्यू जारी कर स्पष्ट किया है कि एक बार भाषा का चयन करने के उसको बदला नहीं जा सकेगा।

फॉर्म में संशोधन 12 से 16 मार्च तक, ये विकल्प ही बदले जाएंगे

फॉर्म भरने के दौरान हुई गलतियों को सुधारने का अवसर भी सीबीएसई एक बार ही देगा। कैटेगरी, क्वालीफाइंग कोड, माता-पिता का नाम और एग्जाम सेंटर्स जैसे विकल्प ही बदले जाएंगे। परीक्षा सिर्फ ऑफलाइन मोड में होगी। इस कारण ऑनलाइन मोड में स्विच होने का ऑप्शन विद्यार्थी के पास नहीं होगा। फॉर्म में संशोधन का मौका 12 से 16 मार्च तक दिया जाएगा।


शंका होने पर इंग्लिश का सवाल ही सही मान्य

इंग्लिश भाषा को माध्यम चुनने पर सिर्फ इंग्लिश में ही बुकलेट मिलेगी। हिंदी में एग्जाम देने वालों को हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषा की बुकलेट दी जाएगी। रीजनल भाषा चुनने पर छात्र को क्षेत्रीय भाषा के साथ अंग्रेजी की बुकलेट दी जाएगी। किसी भी सवाल पर शंका या गलत होने पर इंग्लिश के सवाल को ही सही माना जाएगा।

एमसीआई तैयार करता है नीट के नियम

सीबीएसई ने साफ किया है कि उनका दायित्व केवल परीक्षा करवाने का है। नीट के संबंध में नियम मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (एमसीआई) की ओर से तैयार किए जाते हैं।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-NEET-2018-Choose language Thinking Consistently, will not get second chance for change language
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: neet-2018, 11 language of paper of neet, first time neet paper in urdu, news in hindi, latest news in hindi, news, jaipur news, jaipur news in hindi, real time jaipur city news, real time news, jaipur news khas khabar, jaipur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

करियर

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2021 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved