• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

भारतीय रेल की एक स्टेशन एक उत्पाद योजना से विक्रेताओं और खरीदारों दोनों को समान रूप से मिल रहा है लाभ

One Station One Product Scheme of Indian Railways is providing equal benefits to both sellers and buyers. - Chittorgarh News in Hindi

- पश्चिम रेलवे के 83 रेलवे स्टेशनों पर 86 एक स्टेशन एक उत्पाद आउटलेट

चित्तौड़गढ़ । भारतीय रेल ने भारत सरकार के 'वोकल फॉर लोकल' विजन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से 'एक स्टेशन एक उत्पाद' (OSOP) योजना शुरू की। इसका उद्देश्य स्थानीय और स्वदेशी उत्पादों के लिए बाजार उपलब्ध कराने के साथ-साथ समाज के हाशिए पर रहने वाले वर्गों के लिए अतिरिक्त आय के अवसर पैदा करना है। इस योजना के तहत रेलवे स्टेशनों पर स्वदेशी/स्थानीय उत्पादों के प्रदर्शन, बिक्री और हाई विजिबिलिटी के लिए एक स्टेशन एक उत्पाद आउटलेट आवंटित किए जाते हैं। वर्तमान में (09.11.2023 तक), भारतीय रेल के 1037 स्टेशनों पर 1134 एक स्टेशन एक उत्पाद आउटलेट चालू हैं। इस दिशा में, पश्चिम रेलवे के 83 स्टेशनों पर 86 एक स्टेशन एक उत्पाद आउटलेट हैं, जिनमें से 51 आउटलेट गुजरात राज्य में हैं।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी सुमित ठाकुर के अनुसार 'एक स्टेशन एक उत्पाद' उस स्थान के लिए विशिष्ट होते हैं और इसमें स्वदेशी जनजातियों द्वारा बनाई गई कलाकृतियाँ, स्थानीय बुनकरों द्वारा हथकरघा, विश्व प्रसिद्ध लकड़ी की नक्काशी, चिकनकारी और कपड़ों पर ज़री-ज़रदोज़ी जैसे हस्तशिल्प, या मसाले, चाय, कॉफ़ी और अन्य प्रसंस्कृत/अर्ध प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ/उत्पाद जो उस क्षेत्र में स्वदेशी रूप से उगाए जाते हैं आदि शामिल हैं।

गुजरात राज्य में विभिन्न प्रसिद्ध स्वदेशी उत्पाद जैसे बांस से बने हस्तशिल्प उत्पाद, मिरर वर्क की वॉल हैंगिंग, कलाकृतियाँ और वारली पेंटिंग; पारंपरिक हथकरघा उत्पाद जैसे हाथ से मुद्रित साड़ियाँ, पोशाक सामग्री, कढ़ाई का काम; नकली गहने; चमड़े के उत्पाद, प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ जैसे अचार, मसाला पाउडर, सूखे मेवे और यहां तक ​​कि कच्चा शहद भी प्रसिद्ध हैं और उन्हें ऐसे आउटलेट में बिक्री के लिए रखे जाते हैं। वर्तमान में, गुजरात राज्य में 48 स्टेशनों पर 51 एक स्टेशन एक उत्पाद आउटलेट उपलब्ध कराए गए हैं।

ठाकुर ने बताया कि केंद्रीय बजट 2022-23 में एक स्टेशन एक उत्पाद (ओएसओपी) योजना की घोषणा की गई थी। पायलट प्रोजेक्ट 25.03.2022 को 19 स्टेशनों पर 15 दिनों के लिए लॉन्च किया गया था। पायलट प्रोजेक्ट से प्राप्त अनुभव के आधार पर रेल मंत्रालय द्वारा 20.05.2022 को एक स्टेशन एक उत्पाद नीति जारी की गई थी। उल्लेखनीय है कि इन दुकानों ने इन विक्रेताओं के जीवन पर बहुत प्रभाव डाला है। उन्हें ऐसी जगह पर अपने स्थानीय उत्पादों को प्रदर्शित करने के लिए एक शानदार मंच मिल गया है, जहां भारी संख्या में लोग आते हैं। इससे उनके उत्पादों की बिक्री बढ़ी है और उनके जीवन में बदलाव आया है।

एक स्टेशन एक उत्पाद स्टॉल कैसे आवंटित किए जाते हैं?

इस योजना के तहत भारतीय रेल स्वदेशी/स्थानीय उत्पादों को प्रदर्शित करने, बेचने और हाई विजिबिलिटी प्रदान करने के लिए एनआईडी/अहमदाबाद द्वारा विकसित डिजाइन के अनुसार स्टेशनों पर विशिष्ट रूप, अनुभव और लोगो के साथ विशिष्ट रूप से डिजाइन किए गए बिक्री आउटलेट प्रदान कर रहा है। आवंटन उन सभी आवेदकों को निविदा प्रक्रिया द्वारा किया जाता है, जो स्टेशनों पर लॉटरी के माध्यम से रोटेशन के आधार पर योजना के उद्देश्यों को पूरा करते हैं।

लाभार्थियों को पहुंचा लाभ

09.11.2023 तक कुल 39,847 प्रत्यक्ष लाभार्थियों ने इस योजना के तहत दिए जा रहे अवसरों का लाभ उठाया है। प्रति आवंटन 5 की दर से अप्रत्यक्ष लाभार्थियों को मानते हुए, कुल लाभार्थी 1,43,232 हैं। कुल 49.58 करोड़ रुपये की बिक्री दर्ज की गई है।

एक स्टेशन एक उत्पाद और आउटरीच के पीछे का विजन:

एक स्टेशन एक उत्पाद नीति में यह परिकल्पना की गई है कि इस योजना का लाभ लक्ष्य समूहों यानी पिरामिड के निचले स्तर पर मौजूद लोगों तक पहुंचना चाहिए और सभी आवेदकों को अवसर प्रदान करना चाहिए।

इस उद्देश्य को प्राप्त करने के लिए रेल अधिकारियों द्वारा समाचार पत्रों में विज्ञापन, सोशल मीडिया, जन उद्घोषणाएं, प्रेस सूचनाएं, कारीगरों से व्यक्तिगत मुलाकात आदि सहित विभिन्न जन पहुंच उपाय अपनाए गए हैं।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-One Station One Product Scheme of Indian Railways is providing equal benefits to both sellers and buyers.
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: one station one product scheme, of indian railways, is providing equal benefits, to both sellers and buyers, chittorgarh, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, chittorgarh news, chittorgarh news in hindi, real time chittorgarh city news, real time news, chittorgarh news khas khabar, chittorgarh news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2024 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved