• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

जाट आंदोलन खत्म होते ही दो धुर विरोधी एक मंच पर साथ आए

As soon as the Jat movement was over, two anti-socialists came together on a platform - Bharatpur News in Hindi

भरतपुर। बीसूका उपाध्यक्ष डा. दिगम्बरसिंह एवं विधायक विश्वेन्द्र सिंह डीग कुम्हेर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लडने के कारण जहां राजनीतिक प्रतिद्वन्दिता के चलते एक दूसर के अपोजिट माने जाते है लेकिन भरतपुर धौलपुर के जाटों को ओबीसी में आरक्षण देने की मांग को लेकर दोनों पक्षों में से एक पक्ष जहां विरोध में था वहीं दूसरा प्ख सरकार के साथ रहकर इस मामले को सुलझाने में
लगा था। जाटों को ओबीसी में आरक्षण मिलने के बाद भरतपुर की राजनीति में नया राजैनतिक समीकरण बनने लगा है। ऐसा ही एक नजारा गुरूवार को जाट महासभा के द्वारा शहर के काली की बगीची स्थित गिरिश रिसोर्ट पर जाट आरक्षण के लिए महासभा द्वारा सरकार का आभार व्यक्त कार्यक्रम के दौरान देखने को मिला।

जिला जाट महासभा जहां डा. दिगम्बर सिंह के समर्थन का संगठन माना जाता है। आज इसी संगठन के द्वारा कांगेस विधायक एवं आरक्षण में अहम भूमिका निभाने वाले महाराजा विश्वेन्द्र सिंह एवं नेमसिंह फौजदार का सम्मान किया गया। इस दौरान बीसूका उपाध्यक्ष डा. दिगम्बर सिंह के सुपुत्र एवं भाजपा नेता डा शैलेष सिंह का सम्मान किया गया। इस दौरान विश्वेन्द्र सिंह एवं डा. शैलेष सिंह के द्वारा एक दूसरे के पक्ष में बयान दिये गये और विश्वेन्द्र सिंह ने इस कार्यक्रम को अराजनैतिक बताते हुए दिगम्बर सिंह एवं जगत सिंह की भी आरक्षण दिलाने में कार्य की सराहना की। इस कार्यक्रम के बाद राजनैतिक क्षेत्र मे विभिन्न तरह की कयासों की चर्चा होने लगी है।

कार्यक्रम के दौरान जाट नेताओं के द्वारा डीग कुम्हेर विधायक विश्वेन्द्र सिंह व डा. शैलेष सिंह का माला पहना व साफा पहना कर सम्मान किया गया। इस अवसर पर लोगों को सम्बोधित करते हुए डा. शैलेष सिंह ने कहा कि पूरे राजस्थान में जाट नेताओं में विश्वेन्द्र सिंह व डा. दिगम्बर सिंह की
गिनती दो प्रमुख कद्दावर नेताओं में होती है। दोनों ही एक विधानसभा सीट से चुनाव लड़ते है लेकिन फिर भी दोनों के बीच राजनैतिक प्रतिद्वन्दिता जरूर है लेकिन इसके बावजूद दोनों में आपसी संबंध हमेशा ही मधुर रहै है। उन्होने राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे, विधायक विश्वेन्द्र सिंह तथा बीसूका उपाध्यक्ष डा. दिगम्बर सिंह का जाटों के ओबीसी में शामिल होने के लिए किये प्रयासों पर आभार जताया।

इस अवसर पर जाट नेता विधायक विश्वेन्द्र सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे, बीसूका उपाध्यक्ष डा दिगम्बर सिंह, विधायक जगत, जाट समाज, भरतपुर की जनता का आभार। उन्होंने कहा कि डा. दिगम्बर से उनके राजनैतिक मतभेद हो सकते है लेकिन पारिवारिक मतभेद कभी नहीं रहे। इस अवसर पर मुकेश उसरानी, नेम सिंह फौजदार, मोहन रारह, ज्ञानू जघीना सहित अनेक जाट नेता मौजूद रहे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-As soon as the Jat movement was over, two anti-socialists came together on a platform
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: rajasthan, news, bharatpur, jat movement, over, two anti-socialists, came, together, platform, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, bharatpur news, bharatpur news in hindi, real time bharatpur city news, real time news, bharatpur news khas khabar, bharatpur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved