• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के मानदेय में की गई बढ़ोतरी ऎतिहासिक : भदेल

barmer news : Increase in honorarium of Anganwadi workers is historic: anita Bhadel - Barmer News in Hindi

बाड़मेर। महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री अनिता भदेल ने मंगलवार को विधानसभा में कहा कि मुख्यमंत्री ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के मानदेय में जो बढ़ोतरी की है, वह ऎतिहासिक है। उन्होंने कहा कि अब बीमा की राशि का भार भी सरकार ने अपने ऊपर लिया है और प्रीमियर की राशि सरकार की ओर से जमा करवाई जाएगी।

भदेल प्रश्नकाल के दौरान विधायकों की ओर से इस संबंध में पूछे गए पूरक प्रश्नों का जवाब दे रही थीं। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी केन्द्रों को वास्तव में धरातल पर लाने का कार्य वर्तमान राजस्थान सरकार ने किया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा आंगनबाड़ी केन्द्रों को पर्याप्त बजट देने की वजह से आज ये केन्द्र आदर्श केन्द्र तथा नंदघर के रूप में विकसित हो रहे हैं। बाड़मेर जिले में कैयर्न एनर्जी ने 50 आंगनबाड़ी केन्द्रों को नंदघर के रूप में बनाया है।

भदेल ने कहा कि सरकार की पहली प्राथमिकता यह है कि आंगनबाड़ी केन्द्रों की सेवाओं की सुदूर तक पहुंच सुनिश्चित हो। मापदंडों के अनुसार यदि केन्द्र सरकार स्वीकृति प्रदान करती है, तो आने वाले समय में नए आंगनबाड़ी केन्द्र खोले जाएंगे। उन्होंने कहा कि परियोजनाओं के पुनर्गठन के प्रस्ताव विभाग ने तैयार कराए हैं। आने वाले समय में उन्हें लागू किया जाएगा।

इससे पहले विधायक कैलाश चौधरी के मूल प्रश्न के जवाब में महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री ने बताया कि राज्य के मरुस्थलीय जिलों जोधपुर, बाड़मेर, जैसलमेर, जालोर, सिरोही एवं पाली में 9 हजार 962 आंगनबाड़ी केन्द्र 1 हजार 111 मिनी आंगनबाड़ी केन्द्र संचालित हैं, जिनसे योजना का लाभ आमजन तक पहुंच रहा है।

उन्होंने कहा कि बाड़मेर, जैसलमेर जैसे मरुस्थलीय क्षेत्रों की भौगोलिक परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार द्वारा जनसंख्या के मापदण्डों में शिथिलता प्रदान की गई है। उन्होंने मरुस्थलीय क्षेत्र में आंगनबाड़ी केन्द्र व मिनी केन्द्र स्वीकृति के मापदण्ड सदन के पटल पर रखे। उन्होंने बताया कि जनसंख्या के निर्धारित मापदण्ड के अनुसार मांग पर आधारित आंगनबाड़ी केन्द्र स्वीकृत किए गए हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान में बाड़मेर में 3 हजार 69 आंगनबाड़ी केन्द्र, 489 मिनी आंगनबाड़ी केन्द्र एवं जैसलमेर में 663 आंगनबाड़ी केन्द्र व 169 मिनी आंगनबाड़ी केन्द्र स्वीकृत हैं। आंगनबाड़ी केन्द्र स्वीकृति का आधार जनसंख्या है न कि राजस्व ग्राम। इसलिए जनसंख्या के आधार पर ही आंगनबाड़ी केन्द्र स्वीकृत किए जाते हैं।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-barmer news : Increase in honorarium of Anganwadi workers is historic: anita Bhadel
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: barmer news, anganwadi workers, baytoo mla kailash chaudhary, minister of state for women and child development anita bhadel, minister anita bhadel, barmer hindi news, barmer latest news, rajasthan hindi news, rajasthan assembly, rajasthan assembly session 2018, बाड़मेर समाचार, राजस्थान समाचार, राजस्थान विधानसभा, राजस्थान विधानसभा सत्र 2018, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, barmer news, barmer news in hindi, real time barmer city news, real time news, barmer news khas khabar, barmer news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2018 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved