• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

अजमेर नगर निगम : आयुक्त सुशील कुमार ने टेंडरों में उडाई RTPP Act की धज्जियां, छुट्टी वाले दिन जारी किए 4 करोड़ रुपए के टेंडर

Ajmer Municipal Corporation: Commissioner Sushil Kumar flouted RTPP Act in tenders, issued tenders worth Rs 4 crore on holiday - Ajmer News in Hindi

अजमेर (ब्यूरो)। अजमेर नगर निगम के आयुक्त सुशील कुमार को मुख्यमंत्री सचिवालय, वित्त विभाग और सरकार ने खुली छूट दे दी है। वे चहेते ठेकेदारों को आर्थिक फायदा पहुंचाने के लिए RTPP Act, नियम-कायदों, कानून और वित्त विभाग के आदेशों की मनचाहे जैसे धज्जियां उडा़एं। जी हां, तभी तो कोर्ट स्टे के बावजूद रेस्टोरेंट को तोड़ने पर कोर्ट ने एफआईआर दर्ज कराने के आदेश दिए। आना सागर झील के वेट लैंड एरिया में कराए गए करीब 68 करोड़ रुपए के निर्माण कार्यों को तोड़ने के आदेश दे दिए। इसके बावजूद सरकार ने इन पर कोई कार्रवाई नहीं की।
आयुक्त सुशील कुमार के पुराने कारनामों की चर्चा बंद भी नहीं हुई कि उन्होंने एक ओर कारनामा कर डाला। नगर निगम क्षेत्र में नाला निर्माण के सिविल कार्यों के टेंडर में जब अधिशासी अभियंता (सिविल) ने अवकाश वाले दिन टेंडर नहीं लगाने के लिए मना कर दिया तो आयुक्त सुशील कुमार ने बिजली अभियंता लक्ष्मी नारायण से बिड वेरिफाई करवा डाली। आखिर, इसमें आयुक्त सुशील कुमार को ऐसी क्या रुचि है, इसके लिए स्थानीय जागरूक कार्यकर्ता इसकी जानकारी जुटाने में लगे हैं।
सूत्रों के मुताबिक अजमेर नगर निगम ने 7 अक्टूबर शनिवार को अवकाश के दिन विजय लक्ष्मी गार्डन में नाला निर्माण 37 लाख, वार्ड 51 में नाला व CC हेतु 1.5 करोड़, वार्ड 43 में नाला व CC हेतु 50 लाख, वार्ड 27 में नाला हेतु 64 लाख, पद्मा डेरी नाला निर्माण हेतु 36 लाख और मेडिकल कॉलेज में नाला निर्माण हेतु 68 लाख, इ-निविदा संख्या 41/23-24 में अधिशाषी अभियंता धर्मेंद्र आनंद के हस्ताक्षर से जारी कर दिए।
जबकि धर्मेंद्र आनंद का तबादला 6 अक्टूबर 2023 को ही RUIDP में हो चुका था। इस निविदा को विद्युत विभाग के अधिशाषी अभियंता लक्ष्मी नारायण द्वारा वेरीफाई किया गया। जबकि निगम में सिविल के 3 अन्य अधिशाषी अभियंता ओमप्रकाश धिंडवल, रमेश चौधरी और ओम प्रकाश साहू बैठे हैं। इसके बावजूद निविदा का इस तरह का कृत्य नगर निगम आयुक्त सुशील कुमार की कार्यप्रणाली पर प्रश्न चिन्ह लगता है।
इससे पहले भी नगर निगम आयुक्त सुशील कुमार ने अजमेर में प्रॉपर्टी सर्वे और मैनेजमेंट के लिए 5 करोड़ का टेंडर RTPP Act की धज्जियां उड़ाते हुए चहेते ठेकेदार को दिलवा दिया था। ठेकेदार पर मेहरबानी ऐसी कि नियमानुसार देय EMD राशि तक जमा नहीं करवाई। जब इसकी जानकारी आयुक्त सुशील कुमार को मिली तो ऑनलाइन टेंडर जमा होने की अंतिम तिथि 23 जून, 2023 के पांच दिन बाद यानि 28 जून, 2023 की तारीख में जल्दबाज़ी में गलत-सलत EMD राशि लेकर 5 करोड़ के ठेके का वर्क ऑर्डर दे दिया। जबकि नियमानुसार EMD राशि टेंडर से पहले जमा होनी चाहिए थी।
यह विषय अब वित्त विभाग में भी चर्चा का विषय बना हुआ है। क्योंकि यह पहला केस है जिसमें RTPP Act के विपरीत टेंडर जमा होने की अवधि समाप्त होने के बाद EMD राशि जमा कराई गई हो। यानि सब गोलमाल है। वैसे राज्य में चुनाव आचार संहिता लागू हो चुकी है। इसलिए अब अजमेर के स्थानीय नागरिक आयुक्त सुशील कुमार के कारनामों की सूचना महामहिम राज्यपाल कलराज मिश्र तक पहुंचाने लगे हैं। ताकि केंद्र सरकार आयुक्त सुशील कुमार के नियम विरुद्ध और गैरकानूनी कार्यों की उच्च स्तरीय जांच करवाई जा सके। स्थानीय लोगों की मांग है कि अजमेर आना सागर झील पर गैरकानूनी निर्माण कार्यों में हुए 68 करोड़ रुपए की भरपाई सुशील कुमार से ही की जानी चाहिए।
इधऱ, तकनीकी शिक्षा विभाग ने आचार संहिता लागू होते ही रद्द की टेंडर प्रक्रियाः
दूसरी ओर तकनीकी शिक्षा विभाग है जिसने आदर्श आचार संहिता लागू होते ही राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग के निर्देश पर टेंडरों से संबंधित सभी प्रकार की कार्यवाही को रुकवा कर टेंडरों को निरस्त कर दिया। जबकि यह विभाग राज्य के 50 से भी अधिक पॉलिटेक्निक कॉलेजों को अपग्रेड करने के लिए 7 अक्टूबर, 2022 को स्टेट पब्लिक प्रक्योरमेंट पोर्टल पर निविदा अपलोड कर चुका था। लेकिन, उसका समाचार-पत्रों में प्रकाशन नहीं हो पाया था। इस बीच 9 अक्टूबर, 2023 को चुनाव की आदर्श आचार संहिता लागू हो गई।
इसके विपरीत ऐसे भी कई विभाग हैं जिन्होंने आचार संहिता लागू होने से एक घंटे पहले तक करोड़ों रुपए के आधे-अधूरे कार्यों के लोकार्पण और शिलान्यास कराए हैं। अब वे किसी भी तरह टेंडर प्रक्रिया को आगे बढ़ाने में लगे हैं।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Ajmer Municipal Corporation: Commissioner Sushil Kumar flouted RTPP Act in tenders, issued tenders worth Rs 4 crore on holiday
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: ajmer, municipal corporation commissioner, sushil kumar, chief minister secretariat, finance department, rtpp act, rules, regulations, laws, finance department orders, favorite contractors, court stay, fir, demolition, ana sagar lake, government action, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, ajmer news, ajmer news in hindi, real time ajmer city news, real time news, ajmer news khas khabar, ajmer news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2024 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved