• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

सिद्धू का पाक सेना प्रमुख से गले लगना अच्छा संकेत नहीं - कैप्टन अमरिंदर

Siddhu is not a good sign to embrace the army chief - Capt Amarinder - Punjab-Chandigarh News in Hindi

चंडीगढ़ । पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू द्वारा पाकिस्तान के सेना प्रमुख को गले लगाना अच्छा संकेत नहीं था और यह पूरी तरह टालने योग्य था। यहां फोटो प्रदर्शनी के दौरान पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि जब हर दिन सरहदों पर हमारे भारतीय सैनिकों को शहीद किया जा रहा है तो सिद्धू को ऐसे संकेत का इज़हार करने से बचना चाहिए था।


सवालों के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि आखिर मारने के हुक्म देने वाला तो सेना का प्रमुख ही होता है और सैनिक तो अपने प्रमुख के हुक्मों का पालन करते हैं।कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि हमारे सैनिकों की हत्याओं के लिए पाकिस्तान का सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा जि़म्मेदार है और सिद्धू को उसके प्रति ऐसे संकेत का दिखावा नहीं करना चाहिए था।
सिद्धू द्वारा पाक अधिकृत कश्मीर (पी.ओ.के.) के मुखिया के साथ बैठने बारे पूछे जाने पर कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि यह हो सकता है कि कैबिनेट मंत्री को यह पता न हो कि उसके साथ कौन बैठा है और बैठने के इंतज़ाम भी उसके हाथों में नहीं थे।
मुख्यमंत्री ने विपक्ष द्वारा सिद्धू का इस्तीफ़ा लेने की माँग को ग़ैर-वाजिब बताते हुए खारिज कर दिया।
एक अन्य सवाल के जवाब में कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि जहाँ तक सिद्धू के इमरान ख़ान के शपथ ग्रहण समारोह में जाने की बात है, क्रिकेट खेलने के समय के दौरान उसके पूर्व क्रिकेटर के साथ नज़दीकी संबंधों के कारण निजी हैसियत में वह शामिल होने के लिए गए थे।
एक अन्य सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने बताया कि सोमवार को वह हरियाणा और हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्रियों के साथ मीटिंग करके नशों की समस्या पर विचार-विमर्श करने और इस समस्या के साथ निपटने के लिए साझा रणनीति तैयार करेंगे।
कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने बताया कि हरियाणा के मुख्यमंत्री एम.एल. खट्टर ने बीते दिन उनको मीटिंग का न्योता दिया था जिनको उन्होंने स्वीकार कर लिया है।
नशों की समस्या से निपटने के लिए सभी राज्यों द्वारा संयुक्त प्रयास शुरु करने की ज़रूरत पर ज़ोर देते हुए कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि उन्होंने खुद इस प्रक्रिया को शुरू करने के लिए कुछ हफ़्ते पहले पड़ोसी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखे थे।

वहीं दूसरी ओर भारत आते ही पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के सुर बदले-बदले नजर आए। पाक आर्मी चीफ से गले मिलने और पीओके के प्रेसिडेंट के साथ बैठने को लेकर हुए विवाद को ध्यान में रखकर उन्होंने अपने सुर में बदलते हुए कहा कि अगर कोई (जनरल बाजवा) मेरे नजदीक आकर कहता आता है कि हमारी संस्कृति एक है और हम गुरु नानक देव के 550वें प्रकाश पर्व पर करतारपुर बॉर्डर खोल देंगे, ऐसी स्थिति में मैं और क्या कर सकता था?। सिद्धू ने कहा कि अगर आपको मेहमान के तौर पर आमंत्रित किया गया है, और आपको कहा जाता है कि आप इस जगह से उठकर वहां बैठिए तो उसमें मेरा क्या कसूर है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Siddhu is not a good sign to embrace the army chief - Capt Amarinder
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: punjab chief minister capt amarinder singh, navjot singh sidhu, punjab news, punjab hindi news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, punjab-chandigarh news, punjab-chandigarh news in hindi, real time punjab-chandigarh city news, real time news, punjab-chandigarh news khas khabar, punjab-chandigarh news in hindi
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

पंजाब से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2018 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved