• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

पंजाब फूड कमीशन ने आंध्रा मिड डे मील मॉडल का लिया जायजा

Punjab Food Commission takes Andhra Mid-Day Meal model - Punjab-Chandigarh News in Hindi

चंडीगढ़। मिड डे मील के अंतर्गत ताज़ा पकाया गरमा-गर्म भोजन आंध्र प्रदेश के स्कूलों में बच्चों को बांटा जा रहा है। यह जानकारी फूड कमीशन, पंजाब के चेयरमैन डी.पी. रेड्डी ने दी। उन्होंने बताया कि हाल ही में चेयरमैन और सदस्यों द्वारा आंध्र प्रदेश के दौरे के दौरान राज्य सरकार द्वारा अक्षय पात्र की सैंट्रली मैकेनाईजड़ किचन का दौरा आयोजित किया गया, जिससे यह दिखाया जा सके कि किस तरह मिड डे मील के लिए स्कूल के बच्चों के लिए ताजा और गरमा-गर्म खाना तैयार किया जा रहा है। यह एक प्रभावशाली मॉडल है, जिसमें 25 किलोमीटर के घेरे में आते स्कूली बच्चों के लिए भोजन की व्यवस्था करने हेतु सुचारू रूप में सैंट्रलाईजड़ रसोईयां स्थापित की गई हैं। स्कूलों में भोजन उपलब्ध कराने के लिए जी.पी.एस. की सुविधा वाले वाहन इस्तेमाल किये जा रहे हैं।

चेयरमैन ने बताया कि इस प्रणाली संबंधी भरपूर जानकारी और जायज़ा लेने के लिए अक्षय पात्र और इस्कोन ग्रुप के नुमायंदों के साथ मीटिंग आयोजित की गई और इस मीटिंग में कृष्ण कुमार, आई.ए.एस., शिक्षा सचिव,पंजाब, अमृत कौर गिल, डायरैक्टर, सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास विभाग पंजाब के अलावा सम्बन्धित विभागों के अधिकारी भी शामिल हुए।

रेड्डी ने कहा कि अक्षय पात्र ग्रुप के नुमायंदे रघूपथी दास ने इच्छा अभिव्यक्त की कि यदि राज्य के शिक्षा विभाग द्वारा इस प्रस्ताव के प्रति सहमति बनती है तो बिल्कुल ऐसे प्रयास पंजाब में शुरू किये जा सकते हैं। वह पहले ही साल 2000 से मिड डे मील स्कीम के अंतर्गत 12 राज्यों में भोजन मुहैया करवा रहे हैं। इस्कोन ग्रुप के नुमायंदों ने बताया कि वह भी अक्षय पात्र ग्रुप की तरह ही काम कर रहे हैं और दोनों ग्रुप पंजाब में इसी तजऱ् का मॉडल शुरू करने के लिए सहृदय हैं।

मिड डे मील के साथ-साथ आंगनवाडिय़ों के लिए भी भोजन की आपूर्ति संबंधी संभावना तलाशने के लिए चेयरमैन ने दोनों ग्रुपों के नुमायंदों से सुझाव माँगे और अक्षय पात्र ग्रुप के नुमायंदों ने बताया कि आंगनवाडिय़ों के लिए भी भोजन की व्यवस्था की जा सकती है क्योंकि कई राज्यों में उनके ग्रुप द्वारा आंगनवाडिय़ों के लिए भोजन की स्पलाई दी जा रही है।

शिक्षा सचिव ने सुझाव दिया कि पहले यह स्कीम पायलट प्रोजैक्ट के तौर पर शुरू किया जाये और पायलट प्रोजैक्ट की कामयाबी के बाद समूचे पंजाब में इसको लागू करने संबंधी विचारा जायेगा। उन्होंने इच्छा जाहिर की कि मिड डे मील स्कीम में अक्षय पात्र और इस्कोन ग्रुप का सहयोग लिया जायेगा। शिक्षा सचिव ने उक्त संगठनों द्वारा अन्य राज्यों के साथ सहीबद्ध किये एम.ओ.यू.(समझौता) की कॉपी की मांग की।

प्रोजैक्ट के विस्तृत अध्ययन के बाद ही यह फैसला लिया जायेगा और दोनों ग्रुपों (अक्षय पात्र और इस्कोन) को एक-एक जिला पायलट प्रोजैक्ट के तौर पर दिया जायेगा। शिक्षा सचिव ने यह सुझाव भी दिया कि शिक्षा विभाग अध्यापकों का एक प्रतिनिधिमंडल राजस्थान में अक्षय पात्र समूह द्वारा चलाई जा रही सैंट्रलाईजड़ रसोई का दौरा भी करवाएगा जिससे वहां चलाई जा रही मिड डे मील स्कीम के काम-काज को देखा जा सके।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Punjab Food Commission takes Andhra Mid-Day Meal model
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: punjab food commission, andhra, mid-day meal model, chandigarh news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, punjab-chandigarh news, punjab-chandigarh news in hindi, real time punjab-chandigarh city news, real time news, punjab-chandigarh news khas khabar, punjab-chandigarh news in hindi
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

पंजाब से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved