• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

शिलांग में किसी भी गुरूद्वारे को नुकसाने पहुंचने का कोई सबूत नहीं मिला

No evidence has found any losses to any gurus in Shillong - Punjab-Chandigarh News in Hindi

शिलांग/ ;चंडीगढ़। पंजाब सरकार के कैबिनेट मंत्री स. सुखजिन्दर सिंह रंधावा के नेतृत्व में राज्य सरकार का एक प्रतिनिधिमंडल आज यहाँ पहुँचा और तमाम अफ़वाहों को बेबुनियाद बताते हुए यह कहा कि उनको शिलौंग में किसी भी गुरूद्वारे को नुक्सान पहुंचने या किसी भी हमले का कोई सबूत नहीं मिला और स्थिति तनावपूर्ण परन्तु काबू में है।

मेघालय सरकार द्वारा स्थिति से निपटने के ढंग पर संतुष्टि प्रकट करते हुए प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि हालाँकि कुछ संपत्ति का नुक्सान हुआ है परन्तु हालिया हिंसा के दौरान न किसी गुरूद्वारे पर कोई हमला हुआ और न ही उसको नुक्सान पहुँचा।
प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह जी के दिशा निर्देशों के अंतर्गत शिलौंग के लिए तुरंत रवाना हुआ था जहाँ जाकर प्रतिनिधिमंडल ने मेघालय के मुख्यमंत्री कोनाड संगमा के साथ मीटिंग की। मेघालय के मुख्यमंत्री द्वारा पहुंचाई गई मदद के करण ही प्रतिनिधिमंडल द्वारो कर्फ़्यू प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया गया। प्रतिनिधिमंडल की तरफ से इन क्षेत्रों में सिख समुदाय को मिला गया और यह पता लगा कि यहाँ प्रापर्टी को लेकर पुराना विवाद चल रहा था जिस कारण हालात बिगड़े जो पिछले हफ्ते हिंसा का कारण बने।

स. रंधावा ने बताया कि उनका प्रतिनिधिमंडल कर्फ़्यू प्रभावित क्षेत्र में तीन घंटे रहा और सिख लोगों को मिलकर यह विश्वास दिलाया कि उनको कोई नुक्सान नहीं होगा। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि जिस इमारत को गुरुद्वारा बताकर अफ़वाह फलाई गई, वह वास्तव में निर्माणाधीन स्कूल की इमारत थी जिसको नुकसान पहुँचाया गया।

स. रंधावा ने बताया कि प्रतिनिधिमंडल द्वारा सिख समुदाय की हिफ़ाज़ात संबंधी बात करने पर मेघालय के मुख्यमंत्री कोनाड संगमा ने कैबिनेट सब कमेटी स्थापित करने का फ़ैसला किया जो पूरी घटना की जांच करके प्रापर्टी का पुराना विवाद सुलझाने के लिए यत्न करेगी। इसके अलावा मुख्यमंत्री द्वारा इस मामले संबंधी सर्वदलीय बैठक भी बुलाई गई जिसने पूरी घटना का जायज़ा लिया और इस मामले को हल करने और शान्ति स्थापति करने के लिए यत्न किये गए।
मेघालय के मुख्यमंत्री के अलावा प्रतिनिधिमंडल उप-मुख्यमंत्री, मुख्य सचिव और डी.जी.पी को भी मिला जिससे मामले को ज़मीनी स्तर पर जांच परखकर राज्य सरकार द्वारा इस तनाव के माहौल पर काबू पाया जा सके।

मेघालय के मुख्यमंत्री ने प्रतिनिधिमंडल को भरोसा दिया कि वह पंजाब के मुख्यमंत्री को मामले से अवगत करवाएंगे और ख़ुद मामले की जांच करेंगे जिससे सिख कौम की सुरक्षा को पूरी तरह यकीनी बनाया जा सके। शिलौंग में पहुँचे प्रतिनिधिमंडल में कैबिनेट मंत्री के साथ रवनीत सिंह बिट्टू और गुरजीत सिंह औजला (दोनो सांसद), एम.एल.ए कुलदीप सिंह वैद्य और डीएस मांगट(आई.ए.एस) भी शामिल थे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-No evidence has found any losses to any gurus in Shillong
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: punjab, chandigarh, shillong, no evidence, gurudawaras, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, punjab-chandigarh news, punjab-chandigarh news in hindi, real time punjab-chandigarh city news, real time news, punjab-chandigarh news khas khabar, punjab-chandigarh news in hindi
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

पंजाब से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved