• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

CM कैप्टन ने पाकिस्तान के नशा-आतंकवाद फैलाने पर जताई चिंता, किया यह प्रस्ताव पेश

चंडीगढ़। पाकिस्तान द्वारा विभिन्न राज्यों के द्वारा नशा-आतंकवाद (नार्को टैरोरिज़म) फैलाने पर गहरी चिंता जाहिर करते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने नशे की समस्या से निपटने के लिए सांझे कदमों की श्रृंखला के तौर पर अंतरराज्यीय सरहदों पर सांझी कार्यवाही चलाने का प्रस्ताव पेश किया। आज यहां ‘नशों की समस्या-चुनौतियांं और रणनीति’ पर दूसरी क्षेत्रीय कॉन्फ्रेंस के दौरान अपने शुरुआती भाषण में मुख्यमंत्री ने इस कुरीति को जड़ से खत्म करने के लिए विस्तृत रणनीति और कार्य योजना का खुलासा करते हुए कॉन्फ्रेंस में शामिल हुए सभी राज्यों द्वारा इसको विचारने और लागू करने के लिए पेश किया।

इस कॉन्फ्रेंस में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्रा सिंह रावत के अलावा जम्मू -कश्मीर, दिल्ली और चंडीगढ़ के सीनियर अधिकारियों ने नुमायंदगी की। कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि नशा तस्करों को किसी मुल्क या राज्य की सरहदों तक सीमित नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान, भारत में गड़बड़ पैदा करने के मंसूबो के साथ नशा-आतंकवाद को प्रोत्साहन दे रहा है और उड़ी और कांडला समेत अन्य स्थानों के द्वारा नशे हमारे मुल्क में धकेल रहा है। नशे की समस्या की गंभीरता का जि़क्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे किसी भी राज्य द्वारा अकेले निपटना संभव नहीं जिस कारण उन्होंने सांझे यत्न करने और राष्ट्रीय ड्रग नीति बनाने का न्योता दिया।

पिछले महीने अटारी (अमृतसर) में इंटीग्रेटिड चैक पोस्ट पर नशों की बड़ी खेप पकडऩे का जि़क्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे अटारी व्यापारिक रास्ते के द्वारा नशा तस्करों की सक्रियता और किस हद तक पैर पसारे जाने का पर्दाफाश होता है। उन्होंने कहा कि जांच में पाकिस्तान के साथ-साथ अफगानिस्तान आधारित बड़े अंतरराष्ट्रीय ड्रग माफीए के सम्मिलन का खुलासा हुआ है। उन्होंने कहा कि यह समस्या राष्ट्रीय स्तर पर फैली हुई है परन्तु उत्तरी क्षेत्र इस कुरीति का सबसे अधिक प्रभाव बर्दाश्त कर रहा है। सांझे यत्नों के हिस्से के तौर पर कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एन.सी.बी), बी.एस.एफ और आई.बी जैसी अन्य केंद्रीय एजेंसियों के साथ बेहतर तालमेल और सांझे ऑपरेशन चलाने का न्योता दिया। उन्होंने इस बात पर ज़ोर दिया कि ऐसे सांझे ऑपरेशनों का मकसद बड़े ड्रग समगलर जो अटारी रास्ते से भारत-पाक सरहद पार से नशों (हेरोइन) की तस्करी करते हैं, पर नकेल कसने के लिए होना चाहिए।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Chief Minister organized anti-narcotics strategy and action plan on interstate border
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: chief minister capt amarinder singh, problem of intoxication, action plan, sharing on interstate border, punjab news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, punjab-chandigarh news, punjab-chandigarh news in hindi, real time punjab-chandigarh city news, real time news, punjab-chandigarh news khas khabar, punjab-chandigarh news in hindi
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

पंजाब से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved