• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

राज्य में नशे को जड़ से ख़त्म करने के लिए बहुआयामी रणनीति बनाई जाए : मुख्य सचिव

A multi-pronged strategy should be made to root out drug addiction in the state: Chief Secretary - Punjab-Chandigarh News in Hindi

चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान द्वारा राज्य में नशों की कुरीति को जड़ से समाप्त करने के निर्देशों पर पंजाब के मुख्य सचिव अनुराग वर्मा ने बुधवार को इस दिशा में सभी प्रमुख विभागों के दरमियान तालमेल और सहयोग के सिद्धांतों पर आधारित बहुआयामी रणनीति तैयार करने के लिए कहा।

सिविल और पुलिस प्रशासन के उच्च अधिकारियों की मीटिंग की अध्यक्षता करते हुए मुख्य सचिव वर्मा ने राज्य में नशों से प्रभावित स्थानों की पहचान करने के साथ-साथ राज्य में प्रतिबंधित दवाएँ बेचने वाले कैमिस्टों के विरुद्ध सख़्त कार्रवाई करने पर ज़ोर दिया। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को नई भर्ती और पदोन्नति के द्वारा ड्रग कंट्रोलरों की संख्या बढ़ाने के लिए भी कहा। उन्होंने यह भी कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में नशा तस्करों को कड़ी सजा यकीनी बनाने के लिए कई सुधार करने संबंधी भी विचार कर रही है।
मुख्य सचिव ने आगे कहा कि एनडीपीएस एक्ट को पूरी सरगर्मी के साथ लागू किया जाए और नशा तस्करों को मिसाली सज़ाएं दीं जाएँ और उनकी जायदाद ज़ब्त करने को भी यकीनी बनाया जाए। उन्होंने राजस्व विभाग और पुलिस को एक दूसरे के साथ मिलकर काम करने के लिए कहा। जिससे यह यकीनी बनाया जा सके कि ड्रग मनी के द्वारा हासिल की गई हर जायदाद को ज़ब्त किया जाए। उन्होंने कहा कि एनसीओआरडी की मीटिंगें राज्य और ज़िला स्तर पर निरंतर होनी चाहिएं। अनुराग वर्मा ने राज्य में खेल गतिविधियों में विस्तार करके नौजवानों की ऊर्जा को सकारात्मक दिशा प्रदान करने पर भी ज़ोर दिया। मुख्य सचिव को अवगत करवाया गया कि नयी खेल नीति के अंतर्गत 3-4 किलोमीटर के दायरे में पड़ते गाँवों को कवर करने के लिए 1000 नयी खेल नर्सरियाँ स्थापित करने की व्यवस्था की गई है।
उन्होंने युवक सेवा विभाग को नौजवानों को अच्छी सेहत के लिए प्रेरित करने के लिए ट्रेकिंग, ट्रेल, टूर आदि गतिविधियों को बढ़ाने के लिए भी कहा। इसके साथ ही उन्होंने ग्रामीण विकास एवं पंचायत विभाग को हिदायत दी की वह पंचायतों को नशामुक्त गाँवों की शपथ लेने के लिए प्रेरित करें।
मुख्य सचिव वर्मा ने उच्च शिक्षा और स्कूल शिक्षा विभागोंं को कहा कि वह विद्यार्थियों को नशों के बुरे प्रभावों से परिचित कराएं और उनको सेहतमंद जीवन जीने के लिए प्रेरित करने के लिए भी कहा। उन्होंने आंगणवाड़ी वर्करों और स्टाफ को नशा विरोधी जन सम्पर्क कार्यक्रम का हिस्सा बनाने के लिए भी कहा जिससे नशों को रोका जा सके।
मीटिंग में विशेष मुख्य सचिव खेल सरवजीत सिंह, विशेष मुख्य सचिव सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास राज़ी पी. श्रीवास्तव, डीजीपी गौरव यादव, विशेष डीजीपी (विशेष टास्क फोर्स) कुलदीप सिंह, सचिव स्वास्थ्य अजोए शर्मा, सचिव गृह गुरकीरत कृपाल सिंह, कमिश्नर फूड एंड ड्रग एडमिनस्ट्रेशन अभिनव त्रिखा, डायरेक्टर जनरल स्कूल शिक्षा विनय बुबलानी, उच्च शिक्षा के डायरैक्टर अमृत सिंह, एडीजीपी (इंटेलिजेंस) आर.के. जायसवाल, एससीईआरटी और एलिमेंट्री शिक्षा के डायरेक्टर अमनिंदर कौर बराड़ और ग्रामीण विकास के अतिरिक्त डायरेक्टर संजीव गर्ग शामिल थे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-A multi-pronged strategy should be made to root out drug addiction in the state: Chief Secretary
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: chandigarh, punjab, chief minister bhagwant singh mann, root out drug abuse, chief secretary anurag verma, multi-pronged strategy, \r\nsynergy and collaboration, major departments, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, phagwara news, phagwara news in hindi, real time phagwara city news, real time news, phagwara news khas khabar, punjab-chandigarh news in hindi
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

पंजाब से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2024 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved