• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

'आज के शिवाजी नरेंद्र मोदी' पुस्तक को लेकर शिवसेना के संजय राउत ने ये कहा

Sanjay Raut says, Chhatrapati Shivaji descendants should clarify if they like Modi being compared to him - Mumbai News in Hindi

मुंबई। भाजपा कार्यकर्ता की किताब 'आज के शिवाजी नरेंद्र मोदी' को लेकर महाराष्ट्र में सियासी घमासान शुरू हो गया है। इस किताब की आलोचना करते हुए शिवसेना सांसद संजय राउत ने यहां सोमवार को कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज महाराष्ट्र के पूजनीय व्यक्तित्व हैं और उनकी तुलना किसी के साथ नहीं की जा सकती है। राउत ने 'आज के शिवाजी नरेंद्र मोदी' किताब पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है।

राउत ने यहां मीडियाकर्मियों से कहा कि भाजपा को तुरंत इस किताब को वापस लेना चाहिए और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को व्यक्तिगत रूप से हस्तक्षेप करते हुए किताब को प्रतिबंधित करना चाहिए। भाजपा के एक कार्यकर्ता द्वारा लिखी गई किताब में छत्रपति शिवाजी महाराज की तुलना प्रधानमंत्री से करने पर महाविकास आघाडी के तीनों दलों ने भाजपा पर हमले किए हैं। इसके साथ ही अखिल भारतीय किसान सभा के अध्यक्ष अशोक धवले ने भी इसे अनुचित बताया है।

राउत ने बताया कि छत्रपति शिवाजी महाराज हमारे राष्ट्रीय नायक हैं। प्रधानमंत्री मोदी देश के सम्मानित नेता हैं। कोल्हापुर के छत्रपति के वंशज और सतारा राजवंश को इस पर गंभीरता से ध्यान देना चाहिए।

(IANS)


ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Sanjay Raut says, Chhatrapati Shivaji descendants should clarify if they like Modi being compared to him
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: sanjay raut, chhatrapati shivaji, narendra modi, शिवसेना सांसद संजय राउत, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, mumbai news, mumbai news in hindi, real time mumbai city news, real time news, mumbai news khas khabar, mumbai news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved