• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

नेहरू-गांधी परिवार का नाम लिए बिना PM मोदी ने कांग्रेस पर बोला तीखा हमला

मंडला। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्यप्रदेश के मंडला जिले के रामनगर में मंगलवार को राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस और तीन दिवसीय आदि उत्सव का उद्घाटन करते हुए नेहरू-गांधी परिवार का नाम लिए बिना कांग्रेस पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि यह देश के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है कि आजादी की लड़ाई का श्रेय कुछ परिवारों को दिया जाता है। मोदी ने आगे कहा कि देश की आजादी में अनेक लोगों ने अपना बलिदान दिया है, सच्चे बलिदान की कथा दर्ज करने में आखिर क्या दिक्कत रही है, 1857 के बाद से देश के किसी न किसी हिस्से में आंदोलन हुए, लोगों ने बलिदान दिया, जिसमें जनजाति वर्ग के लोग भी शामिल हैं, मगर देश का दुर्भाग्य है कि आजादी की लड़ाई में कुछ परिवारों का ही नाम लिया जाता है।

प्रधानमंत्री मोदी ने महात्मा गांधी के ग्राम स्वराज के सपने को ‘जनधन, वनधन और गोवर्धन’ के जरिए पूरा किया जा सकता है। उन्होंने कहा, ‘‘जनप्रतिनिधियों को गांव को सक्षम और दक्ष बनाने के लिए प्रयास करना होंगे। गांव में विद्यालय, शिक्षक सब हैं, फिर भी बच्चे अनपढ़ रह जाते हैं तो यह हमारा कसूर है। इसलिए जनप्रतिनिधियों की जिम्मेदारी है कि स्कूल न जाने वाले बच्चों को विद्यालय भेजें। किसानों को जैविक खेती के लिए प्रोत्साहित करें। मिट्टी जब सेहतमंद होगी, तब खेती किसान के लिए फायदे का धंधा बनेगी। बीमारियों के उन्मूलन के अभियान में मदद करें।’’प्रधानमंत्री ने गोंडी भाषा में स्थानीय लोगों को बधाई और शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि केंद्र और राज्य की सरकारें गरीब, आदिवासी व पिछड़े वर्ग को सशक्त बनाना चाहती हैं, इसके लिए प्रयास जारी है, अनेक योजनाएं संचालित हैं।

उन्होंने कहा कि शून्य राशि पर जनधन के खाते खोले गए हैं, किसानों को अपने खेतों की मेड़ पर बांस का लगाकर आर्थिक अर्जन करना चाहिए, वनधन से किसान और गोवर्धन अर्थात गाय व भैंस पालन के जरिए ग्रामीण को सशक्त बनाया जा सकता है। गांव की आर्थिक प्रगति होने पर किसान और ग्रामीणों में संपन्नता आएगी। मोदी ने आगे कहा कि जनजातीय भाइयों को बांस काटने की अनुमति नहीं होती, वे अगर काटते हैं तो उनके खिलाफ वन विभाग का अफसर कार्रवाई करता है, इसलिए सरकार ने तय किया है कि बांस को पेड़ नहीं, बल्कि घास की श्रेणी में रखा जाएगा।

उन्होंने कहा, ‘‘हमारे देश में विदेशों से बांस मंगाया जाता है, अगर हमारा किसान अपने खेतों की मेड़ पर बांस लगाएं तो किसानों की हालत बदल सकती है।’’ मोदी ने कहा कि आज विकास के लिए बजट की चिंता नहीं है, आज जरूरत है कि उस बजट का बेहतर उपयोग हो, सही उपयोग हो और ईमानदारी से काम किया जाए। मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार ने बच्चियों से दुष्कर्म करने वालों को फांसी की सजा दिए जाने का कानून बनाया है, समाज और परिवार की जिम्मेदारी है कि बच्चियों का मान-सम्मान बना रहे। साथ ही लडक़ों को भी परिजनों को नसीहत देते रहना चाहिए। दिल्ली में बैठी सरकार जनता की आवाज सुनती है और इसी के चलते यह कानून बनाया गया है। इससे पहले, प्रधानमंत्री मोदी ने रामनगर पहुंचकर रानी दुर्गावती और महात्मा गांधी के चित्र पर माल्यार्पण कर पंचायती दिवस कार्यक्रम की शुरुआत की।



ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-PM Modi says Freedom struggle history revolves around some families
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: nehru-gandhi family, congress, pm modi, prime minister, narendra modi, rashtriya gramin swaraj abhiyan, national panchayati raj day 2018, mandla, madhya pradesh, governor of madhya pradesh, anandiben patel, union minister for rural development, panchayati raj and mines, narendra singh tomar, chief minister of madhya pradesh, shivraj singh chouhan, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, mandla news, mandla news in hindi, real time mandla city news, real time news, mandla news khas khabar, mandla news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2018 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved