• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

MP : कमलनाथ ने राज्यपाल को दिया इस्तीफा, इससे पहले बोले- धोखा करने वालों को...

भोपाल। मध्य प्रदेश का सियासी नाटक 17 दिन बाद आज खत्म हो गया है। राज्यपाल लालजी टंडन से मिलकर कमलनाथ ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। राज्यपाल को इस्तीफा सौंपने के बाद कमलनाथ ने कहा कि मैंने लोकतांत्रिक मूल्यों के लिए इस्तीफा दिया है। आपको बताते जाए कि फ्लोर टेस्ट से पहले मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने पद से इस्तीफा देने का ऐलान कर दिया था। इससे पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि भाजपा जनता की चुनी हुई सरकार को अस्थिर करने की साजिश करती रही। ज्योतिरादित्य का नाम नहीं लिए बिना कहा कि धोखा करने वालों को जनता कभी माफ नहीं करेगी। भाजपा ने हमारे 22 विधायकों को कर्नाटक में बंधक बनाकर रखा।

UPDATES :-

- मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि हमने आम लोगों के लिए काम किया, लेकिन ये भाजपा को रास नहीं आया, हमारी सरकार पर किसी तरह का आरोप नहीं लगा, भाजपा ने किसानों के साथ धोखा किया लेकिन हमें उनके लिए काम नहीं करने दिया।

-कमलनाथ ने कहा कि हमने अपने कार्यकाल में माफियाओं को खत्म करने का काम किया, बीजेपी को यहां सरकार चलाने के लिए 15 साल मिले थे।

- कमलनाथ ने कहा कि 11 दिसंबर 2018 को पिछली विधानसभा का परिणाम आया है, जिसमें कांग्रेस सबसे अधिक सीटें हासिल करके आई। 17 दिसंबर को मैंने शपथ ली और 25 दिसंबर को मंत्रिमंडल की शपथ ली, आज 20 मार्च है, इस दौरान हमारा प्रयास प्रदेश की तस्वीर बदलने का रहा। 15 महीनों में मेरी क्या गलती थी, अपने राजनीतिक जीवन में मैंने काम पर विश्वास रखा।

-मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि बीजेपी ने 22 विधायकों को बंधक बनाया और ये पूरा देश बोल रहा है। करोड़ों रुपये खर्च कर खेल खेला जा रहा है, एक महाराज और उनके 22 साथियों के साथ मिलकर साजिश रची।

- कमलनाथ ने कहा कि जिसकी सच्चाई थोड़ी समय में सामने आएगी। हमने तीन बार विधानसभा में अपनी बहुमत साबित की। बीजेपी की ओर से जनता के साथ विश्वासघात किया जा रहा है और लोकतांत्रिक मूल्यों की हत्या की जा रही है, जनता इन्हें कभी माफ नहीं करेगी।



- मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि भाजपा चुनी हुई सरकार को अस्थिर करने की साजिश करती रही। धोखा करने वालों को जनता कभी माफ नहीं करेगी।
- मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्यपाल से मिलने का समय मांगा है।
- मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज कांग्रेस विधायक दल की बैठक ली है। इसके बाद कांग्रेस विधायक ने कहा कि हमारी सरकार फ्लोर टेस्ट का सामना करेगी।

सूत्रों ने बताया कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ आज शाम होने वाले फ्लोर टेस्ट से पहले ही इस्तीफा दे सकते हैं। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने इस सूचना को वजन दिया है । उनका कहना है कि 22 विधायकों के इस्तीफे के बाद कमलनाथ सरकार के पास बहुमत का आंकड़ा नहीं है, ऐसे में आगे देखना होगा क्या हो सकता है।
सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है कि शुक्रवार शाम 5 बजे तक कमलनाथ सरकार को बहुमत साबित का आदेश दिया था। इससे पहले कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने बहुमत का आंकड़ा होने पर शक जता दिया था। कांग्रेस नेता ने कहा कि 22 विधायकों के इस्तीफे के बाद कमलनाथ सरकार के पास बहुमत वाला नंबर नहीं है। पैसे और सत्ता के दमपर बहुमत वाली सरकार को अल्पमत में लाया गया है। दिग्विजय सिंह ने कहा कि रूठे विधायकों को मनाने के लिए मिलने नहीं देने की वजह से यह संकट आ गया है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-MP political crisis: Kamal Nath announces resignation ahead of floor test
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: kamal nath announces resignation , madhya pradesh floor test, supreme court, madhya pradesh, congress, bjp, congress bjp, cm kamalnath, former cm shivraj singh chouhan, digvijay singh, jyotiraditya scindia, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, bhopal news, bhopal news in hindi, real time bhopal city news, real time news, bhopal news khas khabar, bhopal news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved