• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

अमित शाह की पीड़ा सामने आई, कांग्रेस और जेडीएस के गठबंधन पर बरसे

Karnataka mandate was against Congress, says Amit Shah - Bengaluru News in Hindi

नई दिल्ली। कर्नाटक चुनावों के नाटकीय घटनाक्रम के बाद भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह आज मीडिया के सामने आए। कर्नाटक चुनावों पर भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने जनता को सबसे बड़ी पार्टी बनाने के धन्यवाद किया। इस दौरान उन्होंने कर्नाटक में कांग्रेस सरकार के बीते पांच सालों के कार्यकाल को निशाने पर रखा। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार, महिला उत्पीडऩ, किसानों की आत्महत्या, तुष्टिकरण व ध्रुवीकरण की राजनीति का आरोप लगाते हुए उन्होंने सिद्धारमैया सरकार को विफल सरकार बताया। उन्होंने कहा, आजादी के बाद कर्नाटक को नरेंद्र मोदी सरकार ने योजनाएं और पैसे निस्तारित किए।

उन्होंने कहा कांग्रेस के आधे से ज्यादा मंत्री चुनाव हारे। खुद मुख्यमंत्री एक जगह चुनाव हारे जबकि दूसरी सीट पर बहुत कम मार्जिन वोट से जीते। इस दौरान अमित शाह ने बताया कि कर्नाटक में पूर्ण बहुमत ना होने की बाद भी बीजेपी ने सरकार बनाने का दावा क्यों किया! उन्होंने कहा अगर हम दावा ना करते तो कर्नाटक की जनता से मिले जनादेश के अनुरूप ना होकर उनके खिलाफ कदम होता। दूसरीं ओर उन्होंने कांग्रेस के जश्न पर सवाल उठाया। बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि इस वक्त कर्नाटक की जनता जश्न नहीं मना रही है बल्कि कांग्रेस और जेडीएस के कार्यकर्ता जश्न मना रहे है। और कांग्रेस इसी तरह की जश्न मनाना चाहती है तो वे ईश्वर से प्रार्थना करेंगे कि कांग्रेस ऐसे ही बनी रहे।

कर्नाटक में महज 7 सीटें से पीछे रहे...
उन्होंने कहा कि बीजेपी नोटा से भी कम मतों से बीजेपी हारी। बेंगलुरु क्षेत्र बीजेपी करीब छह सीटें इतने कम वोट से हारी जितने वोट नोटा पर डाले गए। बता दे, कि बीजेपी 104 सीटों पर सिमट गई थी। कनार्टक में 112 सीटों पर बहुमत थी। लेकिन अमित शाह का दावा कि वे महज 7 सीटें से पीछे रहे।

बंद ना होते विधायक तो परिणाम कुछ और होता...

अमित शाह का कहना है कि अगर कांग्रेस के विधायक होटल-रिर्साट में बंद ना किए गए होते तो परिणाम कुछ और होते। उनके अनुसार कांग्रेस को जनादेश इसिलए नहीं मिला था कि वो जेडीएस की सरकार बनवाएं। ऐसे में अगर उनके विधायक स्वीमिंग पूल में नहाने के लिए बंद ना किए गए होते तो जनता बता देती क्या असली परिणाम होने चाहिए थी।

गोवा-मणिपुर पर दिया जवाब...

अमित शाह ने अल्पमत होने के बाद भी गोवा और मणिपुर में सरकार बनाने को लेकर कहा कि कांग्रेस वहां सबसे बड़ी पार्टी होने बाद सरकार बनाने का दावा ही पेश नहीं कर पाई। इस स्थिति में राज्यपाल को दूसरी पार्टी का रुख करना पड़ा। इसके बाद हमने जनता को एक स्थाई सरकार दी है।
इस मौके पर उन्होंने कांग्रेस के जमाने में हुए ऐसे मामलों का जिक्र करते हुए कहा कि गोवा में एक बार कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिली थी। चुनाव परिणामों में कांग्रेस को शून्य सीटें मिली थीं। लेकिन चुनाव बाद दल-बदल से कांग्रेस में कुछ लोग आए और कांग्रेस ने शून्य सीट के बाद पांच साल प्रदेश में सरकार चलाई।

कांग्रेस-जेडीएस के गठबंधन अपित्र ...
अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस और जेडीएस का गठबंधन अपवित्र है। क्योंकि जेडीएस ने सारी सीटें कांग्रेस और सिद्धारमैया के खिलाफ चुनाव प्रचार कर के जीते हैं। जबकि जेडीएस को कड़ी टक्कर बीजेपी ने दी। लेकिन जेडीएस और कांग्रेस एक दूसरे के खिलाफ चुनाव लड़ रही थीं।

कांग्रेस ने जीत की परिभाषा बदली...
अमित शाह के अनुसार कांग्रेस कुछ लोकसभा सीटों की जीत को अपनी जीत मान रही है। जबकि कर्नाटक में 122 की तुलना में 78 सीट को अपनी जीत मान रही है। जबकि हमने उन्हें 14 राज्यों से बेदखल कर दिया।

जेडीएस-कांग्रेस के बयानों की कॉपियां बांटेंगे...
अमित शाह ने कहा कि वे अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद चुनाव प्रचार के दौरान जेडीएस और कांग्रेस के एक दूसरे पर दिए गए बयानों की कॉपियां बांटेंगे।

गौरतलब है कि कर्नाटक में 15 मई को त्रिशंकु जनादेश आने के बाद भी बीजेपी ने 112 के बनिस्पद 104 सीटों पर सरकार बनाने का दावा पेश किया। और सदन में बहुमत साबित करने से पहले मुख्यमंत्री बीएस यदियुरप्पा ने इस्तीफा दे दिया। इसके बाद ऐसी खबरें आई थीं कि कर्नाटक बीजेपी संगठन सरकार बनाने के पक्ष में नहीं थे, लेकिन दिल्ली बीजेपी आलाकमान अड़ गई थी। इसलिए उन्हें सरकार बनानी बड़ी।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Karnataka mandate was against Congress, says Amit Shah
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: karnataka mandate, congress, amit shah, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, bengaluru news, bengaluru news in hindi, real time bengaluru city news, real time news, bengaluru news khas khabar, bengaluru news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2018 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved