• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

कर्नाटक हाईकोर्ट ने 141 लापता लड़कों पर रिपोर्ट मांगी

Karnataka High Court seeks report on 141 missing boys - Bengaluru News in Hindi

बेंगलुरु। कर्नाटक उच्च न्यायालय ने राज्य निगरानी गृहों से लापता हुए 141 लड़कों पर राज्य सरकार से व्यापक रिपोर्ट मांगी है। सामाजिक कार्यकर्ता के.सी. राजन्ना, की याचिका पर मुख्य न्यायाधीश रितु राज अवस्थी और न्यायमूर्ति सूरज गोविंदराजू की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने मंगलवार को यह आदेश दिया।

पीठ ने इस संबंध में महिला एवं बाल कल्याण विभाग और पुलिस विभाग को नोटिस जारी कर मामले में अगली सुनवाई की तिथि नौ मार्च तय की है।

पीठ ने सरकार से कहा है कि वह अगली सुनवाई के समय इस बात की जानकारी दें कि लापता 141 लड़कों को खोजने के लिए क्या कदम उठाए गए हैं।

यह घटना एक आरटीआई आवेदन के माध्यम से सामने आई और याचिकाकर्ता ने इस मामले को लेकर उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था।

याचिकाकर्ता एस उमापति की ओर से पेश वकील ने कहा कि महिला एवं बाल कल्याण विभाग से आरटीआई के माध्यम से प्राप्त जानकारी के अनुसार 2015-16 से 2021 अक्टूबर की अवधि में 420 बच्चे लापता हैं। इनमें से 141 लड़कों का अभी पता नहीं चल पाया है। उन्होंने कहा कि पुलिस ने इस संबंध में कोई जांच भी नहीं की है।

किशोर न्याय अधिनियम के अनुसार, लापता बच्चों के मामलों से निपटने के लिए प्रत्येक पुलिस स्टेशन में एक अलग प्रकोष्ठ होना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस मामले में संबंधित अधिकारियों की लापरवाही साफ नजर आ रही है।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Karnataka High Court seeks report on 141 missing boys
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: karnataka high court, 141 missing boys, sought report, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, bengaluru news, bengaluru news in hindi, real time bengaluru city news, real time news, bengaluru news khas khabar, bengaluru news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2022 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved