• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

कर्नाटक चुनाव: नेताओं पर नकेल कसने राजनीति में उतरी पूर्व महिला पुलिस अधिकारी

बेंगलुरू। कर्नाटक में एक पूर्व महिला पुलिस अधिकारी अनुपमा शेनॉय विधायक बनने और अपने वादों पर खरा नहीं उतरने वाले नेताओं पर नकेल कसने के लिए राजनीति में उतरी है। शेनॉय ने एक साक्षात्कार के दौरान कहा, मैं राजनीति में आई हूं। मैंने 12 मई का कर्नाटक विधानसभा चुनाव लडऩे के लिए एक पार्टी का गठन किया है और नेताओं पर नकेल कसने के राजनीति में आई हूं, ताकि वे अपने वादे पूरे कर सकें और किसी भी तरह का गलत काम करने से डरें। शेनॉय (37) कर्नाटक पुलिस कॉडर की 2010 बैच की अधिकारी हैं। उन्होंने राज्य के कैबिनेट मंत्री और स्थानी शराब व्यापारी से विवाद के बाद जून 2016 में बेल्लारी जिले में कुडलिगी के पुलिस उपाधीक्षक पद से इस्तीफा दे दिया था।

शेनॉय को प्रशासनिक प्रणाली के भीतर न्याय नहीं मिला और वह अपनी संतुष्टि के लिए लोगों की सेवा नहीं कर पाईं। उन्होंने राजनीति में जाने का फैसला कर खुद को सशक्त करने का फैसला लिया। शेनॉय ने एक नवंबर, 2017 को भारतीय जनशक्ति कांग्रेस (बीजेसी) नामक पार्टी बनाई। उन्होंने 18 फरवरी को निर्वाचन आयोग में इसे पंजीकृत कराया। पार्टी विधानसभा और 2019 के लोकसभा चुनाव लड़ेगी। निर्वाचन आयोग ने 15 मार्च को पार्टी को चुनाव चिन्ह भी आवंटित कर दिया। पार्टी का चुनाव चिन्ह भिंडी है। शेनॉय ने कहा, मैं राज्य का नया नेतृत्व शुरू करने के लिए राजनीति में आई हूं। युवा के रूप में तीनों मुख्य पार्टियों में नेता बनने के लिए कोई जगह नहीं है, जब तक कि आपके पास चुनाव लडऩे के लिए पैसा नहीं हो। राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस पार्टी को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और जनता दल (सेक्युलर) से चुनौती मिल रही है।

राजनीति में नौसिखिए की तरह शेनॉय जानती हैं कि वह सत्ता में नहीं आ सकतीं, बल्कि वह राज्य के लोगों को साफ एवं बेहतर सुशासन और लोगों तक सेवाओं की सुगम सुविधा के लिए राजनीतिक प्रणाली से जुडऩा चाहती हैं। शेनॉय ने कहा, हमारी पार्टी लगभग 30 विधानसभा क्षेत्रों में चुनाव लड़ेगी, जिनमें से सात-आठ बेंगलुरू, तीन विजयापुर, दो-दो बगलकोट, कलबुर्गी, मैसूर और उडुपी और बाकी बचे राज्य के अन्य जिलों में चुनाव लड़ रहे हैं। मैं तटीय उडुपी इलाके के कॉप से चुनाव लडऩे की योजना बना रही हूं। विधानसभा की 225 सदस्यीय सीटों में से 224 सीटों पर 12 मई को एक चरण में चुनाव होंगे, जबकि मतगणना 15 मई को होगी। शेनॉय ने कहा, मैं राजनीति बदलने और लोगों की भलाई के लिए काम करने के लिए अपनी पार्टी को युवाओं और किसी के लिए भी एक मंच के रूप में तैयार करना चाहती हूं। बीजेसी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों का कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं होना चाहिए और न ही उन पर कोई पुलिस केस दर्ज हो। उन्हें राज्य की भाषा कन्नड़ पढऩी और लिखनी आनी चाहिए।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-karnataka election : Anupama Shenoy saye, i will entered politics to police politicians
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: karnataka assembly election 2018, karnataka assembly election, karnataka election, karnataka election 2018, anupama shenoy, former women police officer in karnataka, bharatiya janshakti congress party, bharatiya janshakti congress, election symbol, lady finger, election commission of india, election commission, karnataka, assembly election 2018, assembly election, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, bengaluru news, bengaluru news in hindi, real time bengaluru city news, real time news, bengaluru news khas khabar, bengaluru news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2018 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved