• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

कृषि कानूनों की वापसी ऐसी जैसे किसी का गला दबाओ और मौत न हो तो उसे गले लगाओ : हेमंत सोरेन

The return of agricultural laws such as if someone throat and not death, then embrace it: Hemant Soren - Ranchi News in Hindi

रांची। प्रधानमंत्री द्वारा तीनों कृषि कानून को वापस लेने की घोषणा पर झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि यह इस तरीके की बात है कि पहले गला दबाओ, गला दबाने पर भी न मरे तो गले लगा लो। उन्होंने कहा कि कृषि कानून के मामले में भाजपा का दोहरा चरित्र सामने आ गया है। पूरी भाजपा अब इस प्रचार में लगी है कि प्रधानमंत्री किसानों के हितैषी हैं। लगभग सवा साल केंद्र सरकार ने किसानों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया और अब इस काले कानून को वापस लेकर अपना पीठ खुद थपथपा रही है।

मुख्यमंत्री शुक्रवार को रांची के बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर पत्रकारों से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इस घोषणा से यह बात भी साबित हो गयी है कि देश में लोकतंत्र जिंदा है। केंद्र सरकार से मांग है कि मारे गये किसानों को शहीद का दर्जा मिले और उनके परिजनों को 5-5 करोड़ रुपए मुआवजा के तौर पर दिये जायें। सोरेन ने कहा कि आंदोलन के दरम्यान जिन किसानों के खिलाफ प्राथमिकी और न्यायालय में मामले लंबित हैं उन मामलों को खत्म किया जाये। आंदोलन में शामिल किसानों को क्षतिपूर्ति राशि 10-10 लाख रुपये भी दिये जायें, क्योंकि उन्होंने खेती-किसानी छोड़कर महीनों तक का समय सड़कों पर कष्ट झेलते हुए बिताया।

उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गयी घोषणा को हास्यास्पद बताते हुए कहा कि केंद्रीय कृषि मंत्री को तत्काल अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। हेमंत सोरेन ने कहा कि भाजपा को भी इस बात का एहसास हो गया था कि अगर कानूनों को वापस नहीं लेते हैं तो आने वाले चुनावों में इसका खामियाजा भुगतना होगा।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-The return of agricultural laws such as if someone throat and not death, then embrace it: Hemant Soren
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: chief minister hemant soren, return of agricultural laws, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, ranchi news, ranchi news in hindi, real time ranchi city news, real time news, ranchi news khas khabar, ranchi news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2022 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved