• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

सिख नरसंहार के दोषी राजीव गांधी से भारत रत्न वापस लिया जाए: सतपाल

शिमला। हिमाचल प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने कांग्रेस द्वारा 1984 के सिख नरसंहार को जायज ठहराने की निंदा करते हुए मांग की है कि हजारों सिखों की हत्या के लिए जिम्मेवार पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी से भारत रत्न वापस लिया जाए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस इतने बड़े अपराध के लिए देशभक्त सिखों और राष्ट्र से माफी मांगने को तैयार नहीं है। उन्होंने राहुल गांधी के राजनैतिक सलहाकार और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सैम पित्रोदा के उस बयान को शर्मनाक बताया जिसमें की जिसमें सिखों के हत्या कांड के बारे में कहा गया था कि “अगर यह हुआ तो क्या हुआ“।

सतपाल सिंह सत्ती ने कहा कि दिल्ली से लेकर पूरे देश में पांच हजार से ज्यादा सिखों को 1984 में जिंदा जलाया गया। सिख महिलाओं की इज्जत लूटी गई और उनके दूकान व मकान भी लूट लिए गये। राजीव गांधी ने इसे जायज ठहराते हुए कहा था कि जब कोई बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती कांपती ही है। इस बयान ने कांग्रेसियों को सिखों के हत्याकांड और लूटपाट के लिए उकसाया। राजीव गांधी के इशारे पर पुलिस ने सिखों के हत्यारों के खिलाफ केस नहीं दर्ज किए। जहां कहीं पुलिस के ईमानदार अफसरों ने दोषियों पर केस दर्ज किया तो उसे इतना कमजोर बना दिया गया कि अपराधी बरी हो गये।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रयासों से सिखों के हत्यारे एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सज्जन कुमार को उम्र कैद की सजा मिली। जबकि एक अन्य वरिष्ठ कांग्रेसी कमल नाथ को राहुल गांधी ने मध्यप्रदेश का मुख्यमंत्री बना दिया। कांग्रेस शुरू से ही सिखों के प्रति अपने रवैये को जायज ठहराती रही है। राजीव गांधी से लेकर राहुल गांधी तक ने सिखों और देश से माफी मांगना जरूरी नहीं समझा।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Satyapal withdraws Bharat Ratna from Rajiv Gandhi, convicted of Sikh Genocide: Satpal
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: himachal pradesh, satpal singh satti, congress, former prime minister rajiv gandhi, bharat ratna, himachal pradesh news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, shimla news, shimla news in hindi, real time shimla city news, real time news, shimla news khas khabar, shimla news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

हिमाचल प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved