• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री ने की एआईबीपी के तहत धनराशि में बढ़ौतरी की मांग

शिमला। सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री महेन्द्र सिंह ठाकुर ने मंगलवार को केन्द्रीय जल संसाधन मंत्रालय द्वारा नई दिल्ली में आयोजित ग्रामीण पेयजल आपूर्ति और जल संसाधन संरक्षण के राष्ट्र स्तरीय सम्मेलन में भाग लिया।

सम्मेलन के दौरान अपने संबोधन में सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री ने केन्द्र को हिमाचल प्रदेश को राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम के अंतर्गत मिलने वाली निधि में 25 प्रतिशत की कटौती के बारे में अवगत करवाया तथा केन्द्र से कार्यक्रम के अंतर्गत राज्य को पर्याप्त धनराशि उपलब्ध करवाने का आग्रह किया। उन्होंने बताया कि त्वरित सिंचाई लाभ कार्यक्रम (एआईबीपी) के अंतर्गत 2014-15 में 99 परियोजनाएं प्रस्तावित थी तथा जिनमें से एक भी परियोजना हिमाचल को नहीं मिली। उन्होंने सम्मेलन में यह भी जानकारी दी कि हिमाचल की पांच डीपीआर केन्द्र सरकार के पास लम्बित है।

उन्होंने बताया कि पहाड़ी राज्यों के लिए मापदण्डों छूट दी जानी चाहिए तथा पहाड़ी राज्यों को अन्य राज्यों की पस्थितियों के समान नहीं आंकना चाहिए जहां परियोजनाओं की निष्पादन लागत कम है। उन्होंने वन संरक्षण अधिनियम, 1980 (एफसीए) के कारण होने वाली अनावश्यक देरी के बारे में भी अवगत कराया क्योंकि राज्य में अधिकांश वन भूमि है और स्वीकृति की जटिल प्रक्रिया परियोजनाओं को लागू करने में बाधक सिद्ध हो रहे है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Irrigation and Public Health Minister demanded increase in amount under AIBP
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: health minister mahendra singh thakur, central water resources ministry, aibp, demand for increase, himachal pradesh news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, shimla news, shimla news in hindi, real time shimla city news, real time news, shimla news khas khabar, shimla news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

हिमाचल प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved