• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

हरित आवरण बढ़ाने और पर्यावरण संरक्षण में अहम भूमिका निभा रही हैं वन विभाग की योजनाएं

धर्मशाला। प्रदेश के वन विभाग द्वारा आरंभ की गई नीवन योजनाओं से एक ओर जहां प्रदेश के हरित आवरण में वृद्धि के साथ-साथ पर्यावरण संरक्षण की दिशा में कार्य हो रहा है वहीं लोगों को आजीविका के अवसर भी मिल रहे हैं।
प्रदेश के हरित आवरण में वृद्धि के लिए विशेष पौधरोपण अभियानों को चलाया जा रहा है। पिछले वर्ष प्रदेश में 9785 हैक्टेयर वनभूमि पर 88,53,532 पौधे रोपे गए। इस वर्ष पौधरोपण अभियान के अंतर्गत लगभग 7499 हैक्टेयर वन भूमि पर 65,34,217 पौधे रोपित किए गए।

वन विभाग इको पर्यटन को प्रोत्साहन देने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। इको पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए मंडी जिला के जंजैहली क्षेत्र को 18.18 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। यह राशि ट्रेकिंग के रास्तों, वन विश्राम गृहों, जन सुविधाओं और वन चैकियों के सुधार पर खर्च की जाएगी। केन्द्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्रालय ने मनाली व नाचन में प्राकृतिक उद्यानों और पैदल रास्तों के विकास के लिए 3-3 करोड़ रुपये की धनराशि प्रदान की है। इसके अलावा प्रदेश में इको पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए 25 स्थानों पर कैम्पिंग साइट शुरू की गई हैं।

प्रदेश के 6 जिलों के 18 वन मण्डलों व 61 वन परिक्षेत्रों में जापान अंतर्राष्ट्रीय सहयोग एजेंसी (जिका) द्वारा वित्त पोषित 800 करोड़ रुपये की हिमाचल प्रदेश वन पारिस्थिकी प्रबन्धन एवं आजीविका सुधार परियोजना कार्यान्वित की जा रही हैं। वन क्षेत्र को बढ़ाने और स्थानीय लोगों को वनों पर आधारित आजीविका के अवसर प्रदान करने के उद्देश्य से चलाई जा रही इस योजना के अंतर्गत पिछले वर्ष 11.58 करोड़ रुपये खर्च किए गए। इस वर्ष इस परियोजना पर लगभग 29.71 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

प्रदेश में पहली बार वनों की आग के लिए संवेदनशील क्षेत्रों में व्यापक प्रचार अभियान चलाया जा रहा है, जिसके अंतर्गत विभिन्न माध्यमों से लोगों को वनों को आग से बचाने के लिए जागरुक किया जा रहा है। वनों की आग की रोकथाम और प्रतिरक्षण के लिए नया मैनुअल बनाया गया है। इसके अतिरिक्त भारतीय वन सर्वेक्षण की सैटेलाइट पर आधारित फायर एलर्ट एसएमएस सेवा से प्रदेश के नागरिकों को जोडक़र एक रैपिड फॉरेस्ट फायर फोर्स का गठन किया गया है ताकि वनों में आग की सूचना का तुरन्त पता चले और उचित कार्रवाई की जा सके। इससे अब तक 26 हजार से अधिक नागरिकों को जोड़ा जा चुका है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Forest Department plans are playing an important role in increasing green cover and environmental protection
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: himachal pradesh forest department, janjhali region of mandi district, himachal pradesh forest department promoting eco-tourism, japan international cooperation agency jica, rapid forest fire force, community forest promotion scheme, buta beti scheme, हिमाचल प्रदेश वन विभाग जापान अंतर्राष्ट्रीय सहयोग एजेंसी, सामुदायिक वन संवर्धन योजना, बूटा बेटी योजना \r\n, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, shimla news, shimla news in hindi, real time shimla city news, real time news, shimla news khas khabar, shimla news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

हिमाचल प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved