• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

हिम केयर में साढ़े छह लाख लोगों शामिल करने का लक्ष्य: परमार

धर्मशाला। हिम केयर योजना के तहत राज्य के लगभग साढ़े छह लाख लोगों को जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है। इससे प्रदेश के सभी पात्र परिवारोें को पांच लाख रूपये के निशुल्क उपचार की व्यवस्था हो सकेगी। यह जानकारी स्वास्थ्य मंत्री विपिन परमार ने सोमवार को थुरल में जन शिकायत निवारण कार्यक्रम में लोगों की समस्याएं सुनने के उपरांत दी।

उन्होंने कहा कि हिमकेयर योजना को इस वर्ष प्रथम जनवरी को लागू किया गया है तथा इस योजना के तहत साढ़े तीन लाख परिवारों का पंजीकरण किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि 20 जून तक हिमकेयर योजना के तहत पात्र परिवारों का पंजीकरण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हिमकेयर योजना के तहत आठ हजार से भी ज्यादा रोगी लाभ उठा चुके हैं।

उन्होंने कहा कि सुशासन के परिणामस्वरूप प्रदेश को वर्तमान सरकार के कार्यकाल में विभिन्न क्षे़त्रों में श्रेष्ठ प्रदर्शन तथा केंद्र प्रयोजित योजनाओं को प्रभावी ढंग से लागू करने के लिए अनेक पुरस्कार प्राप्त हुए हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सुशासन की दिशा में पहल करते हुए प्रदेश में सत्तर विषयों पर आधारित डिस्टिक्ट गुड गवर्नेंस इंडेक्स लागू किया गया है। इससे ग्रामीणों को अब छोटे छोटे कार्यों के लिए जिला मुख्यालयों के चक्कर नहीं काटने पड़ते हैं। हिमाचल प्रदेश ऐसा करने वाला देश का पहला राज्य है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Aims to include six million people in snow care: Vipin Parmar
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: health minister vipin parmar, ice care scheme, six lakhs, free treatment, himachal pradesh news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, dharamshala news, dharamshala news in hindi, real time dharamshala city news, real time news, dharamshala news khas khabar, dharamshala news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

हिमाचल प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved