• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय में उन्नत कृषि पर चर्चा

Discussing advanced agriculture at Haryana Agricultural University in hissar - Hisar News in Hindi

हिसार। हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय, हिसार ने वेगेंनिंगन विश्वविद्यालय, नीदरलैंड के सहयोग से राष्ट्रीय कृषि उच्च शिक्षा परियोजना के अंतर्गत संरक्षित कृषि के लिए बागवानी केंद्र के उत्कृष्टता केंद्र पर एक परियोजना प्रस्तुत की जिसमें संयुक्त कार्य दल ने फसल कटाई के बाद के नुकसान को कम करने, एकीकृत कीट-प्रबंधन और लौजिस्टिक सहायता प्रदान करने की आवश्यकता पर बल दिया और निर्णय लिया कि इन सभी पहलुओं को एकीकृत करके एक परियोजना तैयार की जाएगी जिसको नीदरलैंड के सहयोग से संचालित किया जाएगा।

यह जानकारी हिसार में हरियाणा सरकार के हरियाणा-नीदरलैंड सहयोग हेतु गठित कार्य समूह की बैठक में दी गई जिसमें विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. के.पी. सिंह ने अध्यक्षता की। इस बैठक में नीदरलैंड दूतावास के काउंसलर एग्रीकल्चर वाउटर वेरे, कृषि मंत्रालय, नीदरलैंड के प्रतिनिधि फ्रेड्रेक वोसेनार, वेगेंनिंगन यूनिवर्सिटी एंड रिसर्च, नीदरलैंड के डॉ. आरजो रुथोइस तथा नीदरलैंड दूतावास के डिप्टी काउंसलर एग्रीकल्चर आनंद कृष्णन भी उपस्थित थे। नीदरलैंड के विशेष आग्रह पर हरियाणा सरकार एवं हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय में विशेष रूप से सहयोग करने के लिए विश्व बैंक के कृषि विशेषज्ञ श्री फोकके फनेमा ने भी भाग लिया।

इस बैठक में बायो डिफेंस स्टै्रटीज, संरक्षित खेती, पैरी अर्बन एंड अर्बन होर्टिकल्चर, फूलों की खेती, हाइड्रोपानिक्स कल्टीवेशन ऑफ वेज़ीटेबल्ज़, झज्जर में इंडो-डच होर्टिकल्चर सैंटर, एग्री बिजनेस एन्क्यूबेंशन्ज सैंटर, टीचर-स्टूडैंट ट्रेनिंग एंड एक्सचेंज प्रोग्राम, स्पेशल शार्टटर्म ट्रेनिंग प्रोग्राम तथा नॉलेज गेप एनालेसिज जैसे विषयों पर संयुक्त रूप से काम करने पर भी सहमति बनी। शीघ्र ही हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. के.पी. सिंह के नेतृत्व में एक डेलीगेशन इन विषयों पर वल्र्ड बैंक में प्रस्तुति देगा जिसमें उपरोक्त विषयों एवं कार्यक्रमों हेतु विश्व बैंक, नीदरलैंड के वेगेंनिंगन यूनिवर्सिटी एंड रिसर्च व हरियाणा सरकार तथा हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय संयुक्त रूप से संसाधन जुटाने एवं तकनीक के विकास एवं विस्तार पर विचार करेंगे।

प्रो. के.पी. सिंह ने इस बैठक के दौरान हरियाणा में खारे पानी की समस्या से निपटने के लिए नीदरलैंड के प्रतिनिधि मंडल से विचार सांझा किए ताकि खारे पानी को सिंचाई के प्रयोजनों के लिए इस्तेमाल किया जा सके जिससे किसान फसलों के उत्पादन में आ रहे जल संकट से निजात पा सकें। इसके अलावा, नीदरलैंड प्रतिनिधि मंडल से गुरुग्राम में फूल नीलामी केंद्र स्थापित करने के लिए विशेषज्ञता प्रदान किए जाने के बारे में चर्चा हुई। बैठक में धान के पुआल जलाने से पर्यावरण एवं स्वास्थ्य पर पडऩे वाले दुष्प्रभावों तथा गैस बॉटलिंग के लिए बायोचार परियोजना जैसे विभिन्न समाधान, कृषि अवशेषों के प्रबंधन के लिए प्रदर्शन के मॉडल की स्थापना पर भी विस्तार से चर्चा की गई।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Discussing advanced agriculture at Haryana Agricultural University in hissar
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: discussing advanced agriculture at haryana agricultural university in hissar, hissar update news, hissar latest news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, hisar news, hisar news in hindi, real time hisar city news, real time news, hisar news khas khabar, hisar news in hindi
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

हरियाणा से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved