• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

मेडिसिटी, फोर्टिस जैसे बड़े अस्पताल नहीं कर रहे गरीबों का फ्री इलाज

चंडीगढ़। हरियाणा विधानसभा की शिक्षा, तकनीकी शिक्षा, व्यावसायिक शिक्षा, मैडिकल शिक्षा तथा स्वास्थ्य सेवाओं पर सबजैक्ट कमेटी ने आज गुरुग्राम में मैडिसिटी और फोर्टिस अस्पतालों का निरीक्षण किया। इस निरीक्षण में पाया गया कि इन अस्पतालों में समाज के निर्धन वर्ग के उतने मरीजो को नि:शुल्क ईलाज की सुविधाएं नहीं दी जा रही जितनो को सरकार की नीति व दिशा-निर्देशों के अनुसार दी जानी चाहिए थी।
इस कमेटी के चेयरमैन गुरुग्राम के विधायक उमेश अग्रवाल हैं तथा अन्य सदस्यों में 8 विधायक शामिल हैं। इनके अलावा तीन विधायकों को कमेटी में विशेष आमंत्रित सदस्य के रूप में शामिल किया गया है। आज निरीक्षण के दौरान विधायक उमेश अग्रवाल के अलावा विधायक करण सिंह दलाल, कुलदीप शर्मा, ओम प्रकाश यादव, रामचंद कंबोज, जसबीर देशवाल तथा नसीम अहमद उपस्थित थे।

मेदांता-द मैडिसिटी का निरीक्षण करने के बाद कमेटी के चेयरमैन गुरुग्राम के विधायक उमेश अग्रवाल ने मीडिया प्रतिनिधियों से बातचीत करते हुए बताया कि हरियाणा विधानसभा की कमेटी का आज और कल गुरुग्राम का दो दिन का दौरा है। उन्होंने कहा कि गुरुग्राम के बड़े अस्पतालों की बार-बार शिकायत मिल रही थी कि यहां पर समाज के गरीब तबके का ईलाज ठीक से नही हो रहा है तथा उनसे बिल भी ज्यादा लिया जा रहा है। इन शिकायतों के मद्देनजर ही विधानसभा कमेटी ने इनका निरीक्षण करने का फैसला लिया। श्री अग्रवाल ने बताया कि इन अस्पतालों का निरीक्षण करने उपरांत प्रथम दृष्टया प्रतीत होता है कि ये अस्पताल उतने बीपीएल अथवा ईडब्ल्यूएस के मरीजो का ईलाज नहीं कर रहे, जितनो का उन्हें करना चाहिए। कमेटी के सदस्य पलवल से विधायक करण सिंह दलाल ने इस मौके पर कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं के नाम पर इन प्राईवेट अस्पतालों में विदेशी तथा अमीरों का ईलाज तो हो रहा है लेकिन हमारे यहां के गरीब परिवारों को इनमें ईलाज की सुविधा नहीं दी जा रही। श्री अग्रवाल ने एक सवाल के जवाब में बताया कि कमेटी द्वारा इन अस्पतालों से रिकार्ड मांगा गया है कि इन्होंने कितने गरीब परिवारों के मरीजों का ईलाज किया है। रिकार्ड को देखने के बाद ही उसका विशलेषण करके कमेटी आगे की कार्यवाही के बारे में फैसला करेगी।
विधानसभा कमेटी ने आज मेदांता तथा फोर्टिस अस्पतालो में यह भी चैक किया कि बीपीएल, ईडब्ल्यूएस तथा गरीब परिवारों को नि:शुल्क ईलाज सुविधा उपलब्ध करवाने के बारे में सूचना सार्वजनिक रूप से प्रदर्शित की हुई है अथवा नहीं। मेदंाता अस्पताल में बाहर प्रवेश द्वार के पास ही यह सूचना प्रदर्शित हुई पाई गई लेकिन बीपीएल व ईडब्ल्यूएस के लिए हैल्पडैस्क अस्पताल में पीछे की तरफ अंदर बनाया हुआ था, जहां तक मरीज का पहुंचना कठिन है। कमेटी द्वारा बीपीएल व ईडब्लयूएस मरीजों का ओपीडी तथा इंडोर ईलाज के लिए बनाए गए रजिस्टर का निरीक्षण भी किया गया जिसमें पाया गया कि मेदांता अस्पताल द्वारा ईडब्ल्यूएस मरीजों का रिकार्ड स्वास्थ्य विभाग द्वारा दिए गए प्रोफोर्मा के अनुसार नहीं रखा जा रहा।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Medicity, Fortis Hospital Are Not Free Treatment for the Poor
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: haryana, gurugram, medicity, fortis hospital bpl, ews, no free treatment, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, gurugram news, gurugram news in hindi, real time gurugram city news, real time news, gurugram news khas khabar, gurugram news in hindi
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

हरियाणा से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2018 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved