• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

निजीकरण के विरोध में रोड़वेज संयुक्त संघर्ष समिति का आंदोलन शुरू

Randwege Joint Struggle Committee begins to protest against privatization - Chandigarh News in Hindi

चंडीगढ़। रोड़वेज संयुक्त संघर्ष समिति अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 5 मई को रोड़वेज को निजी हाथों से बचाने के लिये आन्दोलन के दूसरे चरण में इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा के कुरूक्षेत्र स्थित निवास स्थान पर जाकर ज्ञापन सौंपेगी। संघर्ष समिति के प्रदेश के नेता वीरेन्द्र सिंह धनखड़, इन्द्र सिंह बधाना, पहल सिंह तंवर, सरबत सिंह पुनियां ने बताया कि 5 मई को कुरूक्षेत्र नये बस स्टैंड पर रोड़वेज के काफी संख्या में कर्मचारी एकत्रित होकर जलूस की शक्ल में ज्ञापन सौंपेगे।

समिति के नेता वीरेन्द्र सिंह धनखड़ ने आरोप लगाया कि गत सम्पन्न हुये विधानसभा सत्र में राज्य सरकार द्वारा परिवहन बेड़े में किलोमीटर स्कीम के तहत मंत्रीमंडल ने जो प्रस्ताव पास किया है उसके अनुसार गाड़ी व चालक प्राईवेट मालिक के होंगे। परिचालक रोड़वेज का। ये निर्णय पूर्णतया जनविरोधी तथा जनहित जैसे रोड़वेज विभाग को तालाबंदी की तरफ धकेल देगा। उन्होंने कहा कि वैसे भी सरकारें अपना राजनीतिक लाभ लेने के लिये रोड़वेज को ही निशाने पर लेती आई हैं। यदि सरकार ठीक नीयत व नीति से इस विभाग का जीर्णोद्धार करना चाहे तो वर्तमान में राज्य की आबादी को मद्देनजर रखते हुये तथा जनसंख्या के केन्द्रीय पूल को देखते हुये आज हरियाणा में दस हजार गाडिय़ां सरकारी तौर पर शामिल की जायें। जिससे लगभग सत्तर हजार बेरोजगार युवाओं को रोजगार के साथ देश व प्रदेश की जनता को सस्ती व टिकाऊ तथा सुरक्षात्मक दृष्टि से बेहतर परिवहन सेवा उपलब्ध हो सके।

सरकार अपने चहेतों को लाभ पहुंचाने के लिये विभाग को निगम बनाने पर उतारू है। जिसका रोड़वेजकर्मी जन सहयोग से पुरजोर विरोध करेंगे। इसके बाद 12 मई को कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष के सिरसा निवास पर प्रदर्शन करते हुये सिरसा में ज्ञापन सौंपेंगे। आज हरियाणा रोड़वेज जनता की लगभग 40 श्रेणियों को मुफ्त या रियायती दर में यात्रा की सेवा दे रही है तथा देश के 79 परिवहन उपक्रमों में कम ईंधन में ज्यादा बचत देने वाले विभाग का निजीकरण क्यों किया जा रहा है। इसके बाद 3 जून को परिवहन मंत्री के कैंप कार्यालय मतलोड़ा में हजारों कर्मी एकत्रित होकर 500 किलोमीटर स्कीम के फैसले को रद्द करवाने की मांग करेंगे तथा उसी दिन आगामी निर्णायक आन्दोलन की घोषणा की जायेगी।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Randwege Joint Struggle Committee begins to protest against privatization
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: haryana, rodawats, privatization, protest, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, chandigarh news, chandigarh news in hindi, real time chandigarh city news, real time news, chandigarh news khas khabar, chandigarh news in hindi
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

हरियाणा से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved