• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

गोरक्षकों पर PM मोदी का निशाना, पूछा-इंसान को मारना कैसी गो-भक्ति

अहमदाबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को दो दिन के दौरे पर गुजरात पर अहमदाबाद पहुंचे। यहां पीएम मोदी ने साबरमती आश्रम के शताब्दी समारोह की शुरुआत की। इस दौरान मोदी ने गांधी की प्रदर्शनी देखी और चरखा भी चलाया। मोदी ने साबरमती आश्रम में पौधरोपण भी किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को गोरक्षा के नाम पर लोगों की हत्या करने वालों को जमकर फटकार लगाई। गुजरात के साबरमती आश्रम में शताब्दी समारोह को संबोधित करते हुए कहा मोदी ने कहा कि गांधीजी-विनोबा जीवनभर गोरक्षा के लिए लड़ते रहे। लेकिन क्या हमें किसी इंसान को मारने का हक मिल जाता है? क्या ये गो-भक्ति है? क्या ये गोरक्षा है? ये गांधीजी, विनोबाजी का रास्ता नहीं हो सकता। इस दौरान गाय पर बोलते हुए पीएम मोदी भावुक भी हो गए।

समारोह को संबोधित करते हुए पीएम मोदी क्या किसी इंसान को मार देना गोरक्षा है? उन्होंने कहा कि देश को अहिंसा के रास्ते पर चलना होगा, क्योंकि यही हमारे मूलभूत संस्कार हैं। इंसान को कानून हाथ में लेने का हक नहीं है। मोदी ने कहा गोभक्ति के नाम पर लोगों को मारना स्वीकार नहीं किया जा सकता। गांधी और विनोबा भावे से ज्यादा किसी ने गोरक्षा की बात नहीं की। महात्मा गांधी भी आज होते तो इसके खिलाफ होते। यह रास्ता बापू का नहीं हो सकता। विनोबा का संदेश यह नहीं है। आपको बता दें कि देश के अलग-अलग हिस्सों से पिछले कुछ दिनों से कथित गोरक्षकों द्वारा लोगों को पीट-पीटकर मार देने की घटनाएं सामने आ रही थीं।

मोदी ने कहा इस साल हम साबरमती आश्रम की स्थापना के 100 साल पूरे होने का जश्न मनाने जा रहे हैं, चंपारण सत्याग्रह के भी 100 साल पूरे हो रहे हैं। अगर हमने गांधी को विश्व की शांति के लिए मसीहा के रूप में जन-मन तक स्थिर करने में सफलता पाई होती तो यूनाइटेड नेशन का जनरल जो भी बनता तो वह सबसे पहले साबरमती आश्रम आता और विश्व शांति के लिए प्रेरणा लेकर गांधी की तपोभूमि से लेकर जाता।

हमारी धरती अहिंसा की धरती:मोदी

मोदी ने कहा कि मैं राजनीति में बहुत देर से आया हूं, जवानी का लंबा समय आदिवासियों के बीच काम करने में बीता, राजनीति में आया फिर भी यह विचार नहीं था कि इस राह पर आना है, संगठन के लिए काम करता था। हर जनप्रतिनिधि को वैष्णव जन तो तेने कहिये, जे पीड़ पराई जाने रे में रास्ता साफ मिल जाएगा। हमारी धरती अहिंसा की धरती है, हमारी जन्मभूमि महात्मा गांधी की जन्मभूमि है, हम यह कैसे भूल सकते हैं। हिंसा से आज तक कभी किसी समस्या का समाधान नहीं हुआ और ना ही आगे होगा। इस देश में किसी को भी कानून अपने हाथ में लेने का अधिकार नहीं है।

राजचंद्र जी ने गांधी को अपने व्यक्तित्व में समेटा

उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी से मिलने बड़ी-बड़ी हस्तियां मिलने आती थीं, लेकिन दुनिया का कोई भी व्यक्तित्व गांधी को प्रभावित नहीं कर पाया। गांधी को दुनिया की कोई हस्ती प्रभावित नहीं कर पाई लेकिन राजचंद्र जी ने गांधी को अपने व्यक्तित्व में समेट लिया। श्रीमद् राजचंद्र जी के जीवन और विचारों पर और अकादमिक शोध किया जाना चाहिए।

सबके स्वभाव में स्वच्छता आए, यही सबसे बड़ी बापू को श्रद्धांजलि

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-PM Modi arrives in Ahmedabad for Sabarmati Ashram centenary celebrations
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: prime minister, narendra modi, ahmedabad, sabarmati ashram centenary celebrations, ashram, 150th birth anniversary, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, ahmedabad news, ahmedabad news in hindi, real time ahmedabad city news, real time news, ahmedabad news khas khabar, ahmedabad news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2021 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved