• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 4

Triple Talaq Bill : विरोध के बीच लोकसभा में फिर पास हुआ तीन तलाक बिल

नई दिल्ली। गुरुवार को दिनभर चली लंबी बहस के बाद लोकसभा में देर शाम एक बार फिर तीन तलाक बिल पास हो गया। हालांकि कांग्रेस, डीएमके, एनसीपी समेत कई विपक्षी दलों ने इसका विरोध किया। वैसे यह बिल पिछली लोकसभा में भी पास हो चुका था लेकिन राज्यसभा में बहुमत नहीं होने से इस बिल को वापस कर दिया गया था। अब सरकार कुछ बदलावों के साथ फिर से बिल को लेकर आई है। इसे कानून का रूप देने के लिए अब राज्यसभा में भी पास कराना होगा।

LIVE अपडेट...

- तीन तलाक बिल लोकसभा में ध्वनि मत से पास। बिल पर वोटिंग के दौरान कांग्रेस का लोकसभा से वॉकआउट। असदुद्दीन ओवैसी का संशोधन प्रस्ताव खारिज।

- कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा िक केवल एक समुदाय के महिलाओं को छोडऩे वालों पर क्यों कानून लाया जा रहा है, अन्य समुदायों के लिए ऐसा कानून नहीं है। एक और कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक को क्रिमिनलाइज करने को नहीं कहा, हमारा विरोध इसी छोटे मुद्दे पर है।

- कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ट्रिपल तलाक पर चर्चा के दौरान कहा कि पैगंबर साहब ने भी इसे गलत माना था। ओवैसी साहब ऐसी पीडि़त महिलाओं के हक में बात करते तो अच्छा लगता। सुप्रीम कोर्ट के दो जज ने तीन तलाक को गलत बताया और एक ने कहा कि कुरान में गलत है तो कानून में सही कैसे माना जा सकता है। मोदी सरकार तीन तलाक की पीडि़त महिलाओं के साथ खड़ी रहेगी, यह फैसला हमारे प्रधानमंत्री ने किया था। सदन को तीसरी बार बिल पर चर्चा करनी पड़ रही है क्योंकि कानून की निगरानी नहीं कुछ लोग कानून को रोकने की मंशा से यहां बैठे हैं।


- भाजपा सांसद पूनम महाजन ने कहा कि प्रधानमंत्री महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए यह बिल लेकर आए हैं। कानून ने बुरा न सहने के बारे में भी सिखाया है, ऐसे में महिलाओं को तीन तलाक पर बधाई कैसे दे सकते हैं। छोटी-छोटी बातों पर तलाक देने के मामले सामने आए हैं। आज तलाक को मजाक बना दिया गया है और इसे रोकना जरूरी हो गया है।

- एआईएमएम सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने कहा मुस्लिमों को तहजीब से दूर करने के लिए यह बिल लाया गया है। इस्लाम में शादी जनम-जनम का साथ नहीं है, यह एक कॉन्ट्रैक्ट है। जिदंगी की हद तक है और हम उसमें खुश हैं।

-लोकसभा में तीन तलाक बिल पर चर्चा के दौरान सपा सांसद आजम खान ने चेयर पर बैठीं रमा देवी के बारे में कुछ टिप्पणी करने के बाद रविशंकर प्रसाद ने आपत्ति जताते हुए कहा कि सदस्य को अपने बयान पर माफी मांगनी चाहिए। आजम ने कहा कि वह मेरी बहन जैसी हैं, माफी किसी बात की मांगनी चाहिए। भाजपा के सांसद आजम के बयान पर हंगामा कर रहे हैं। अब ओम बिड़ला आसन पर आ गए हैं और उन्होंने हंगामा शांत करने की अपील की।


- भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी ने तीन तलाक के पक्ष में बोलते हुए कहा कि एक धार्मिक देश में धर्म निरपेक्ष राज्य बनाना ही नेहरू की तरह पीएम मोदी के लिए सबसे बड़ी दिक्कत है। उन्होंने कहा कि धार्मिक कानून गलत हैं और उस सोच को ठीक करना जरूरी है। लेखी ने बताया कि बाबा साहब अम्बेडकर भी हिन्दू कानूनों को रोकना चाहता थे और बाद में इसी वजह से उन्होंने कांग्रेस छोड़ दी। उन्होंने कहा कि संविधान का कानून किसी एक कौम के लिए नहीं बल्कि भारत की पूरी जनता के लिए है। तलाक का अधिकार सभी को है, हिन्दू महासभा की गलती पर भी बात करूंगी और मुस्लिमों की गलत प्रैक्टिस को भी बंद करने पर भी बात करूंगी। लेखी ने कहा कि पीएम मोदी हिन्दुस्तान के प्रधानमंत्री होने का हक अदा कर रहे हैं जो नेहरू के बाद राजीव गांधी ने नहीं अदा किया था। विपक्ष मानता है कि हिन्दू पीएम मोदी मुस्लिम महिलाओं का भाई नहीं हो सकता।

- कानून मंत्री ने कहा कि यह नारी न्याय और नारी सम्मान का मामला है। पहले जब हम इस बिल को लेकर आए थे तब कुछ आशंकाएं थी, उन्हें अब मिटाया गया है। अब पीड़ित और उसके रिश्तेदार ही केस कर सकते हैं, बेल के लिए मजिस्ट्रेट को अधिकार दिए हैं लेकिन पीड़ित के सुनवाई के बाद ही ऐसा हो सकता है। उन्होंने सदन से एक सुर में इस बिल को पास करने की अपील की। उन्होंने कहा कि इस मामले को सियासी चश्मे से नहीं, धर्म और सियासत से नहीं, इंसाफ और इंसानियत से देखा जाना चाहिए

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Triple Talaq Bill To Be In Tabled In Lok Sabha Today
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: triple talaq, triple talaq bill, lok sabha, prime minister narendra modi, narendra modi, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, delhi news, delhi news in hindi, real time delhi city news, real time news, delhi news khas khabar, delhi news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved