• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

‘नोटबंदी, करों पर निगरानी से संदिग्ध लेनदेन पकड़ में आई’

नई दिल्ली। भारत सरकार के नोटबंदी जैसे नीतिगत उपायों से संदिग्ध लेनदेन रिपोट्र्स (एसटीआर) में भारी इजाफा हुआ है। यह बात वैश्विक बाजार की खुफिया अनुसंधान व परामर्शदात्री कंपनी बीआईएस रिसर्च ने सोमवार को कही। बीआईएस रिसर्च ने कहा, ‘‘हमारी अपनी हालिया रिपोर्ट ‘वैश्विक धनशोधन रोधी (एएमएल) सॉफ्टवेयर मार्केट-एनालाइसिस एंड फोरकास्ट (2017-2023)’ के अनुसार नोटबंदी और कर अधिकारियों की निगरानी बढऩे से एसटीआर वित्तवर्ष 2011 के 20,000 से बढक़र 2016 में 1,00,000 और 2017 में तकरीबन 5,00,00 पहुंच गई हैं।’’

रिसर्च कंपनी के मुताबिक, वर्ष 2018 में यह संख्या बढक़र 10,46,283 हो सकती है। अनुसंधानकर्ता ने देश में मौजूद धनशोधन रोधी मानकों के अनुपालन की जरूरत पर ज्यादा जोर दिया गया। अध्ययन के मुताबिक, 2023 तक वैश्विक धन शोधन सॉफ्टवेयर बाजार का आकार बढक़र 1.4 अरब डॉलर हो जाएगा।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Suspicious transaction reports up due to demonetisation, tax surveillance
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: global market intelligence, indian government, demonetisation, suspicious transaction reports str, anti money laundering aml, software market, tax surveillance, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, delhi news, delhi news in hindi, real time delhi city news, real time news, delhi news khas khabar, delhi news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2022 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved