• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

SC ने सोशल मीडिया खातों को आधार से जोडऩे की याचिका पर सुनवाई से किया इंकार

नई दिल्ली। सोमवार को सर्वोच्च न्यायालय ने सोशल मीडिया खातों को अनिवार्य रूप से आधार के साथ जोडऩे के लिए दाखिल याचिका पर विचार करने से इंकार कर दिया। जस्टिस दीपक गुप्ता और जस्टिस अनिरुद्ध बोस की बेंच ने याचिकाकर्ता अश्विनी उपाध्याय से कहा कि वे पहले हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाएं और मामले को सीमित करते हुए उन्हें हाईकोर्ट जाने की स्वतंत्रता प्रदान की।

साथ ही पीठ ने कहा कि जरूरी नहीं कि हर मामले को सुप्रीम कोर्ट में ही सुना जाए। अश्विनी ने अपनी दलील में कहा था कि फेक और पेड न्यूज को नियंत्रित करने को फर्जी सोशल मीडिया खातों को निष्क्रिय करने के लिए आधार प्रमाणीकरण जरूरी है।

राजनीतिक दल अक्सर फर्जी खातों का इस्तेमाल करते है और मतदान के समापन से पहले 48 घंटे के दौरान भी उम्मीदवारों के प्रचार और अन्य चुनावी गतिविधियों के लिए इनका इस्तेमाल होता है। लगभग 3.5 मिलियन ट्विटर हैंडल और 35 मिलियन फेसबुक अकाउंट ऐसे हैं, जिनका उपयोग फर्जी और झूठे बनाए गए समाचार प्रसारित करने के लिए किया गया है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Supreme Court rejects PIL seeking to link social media accounts to Aadhaar
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: supreme court, pil, social media, aadhaar card, paid news, fake news, high court, twitter, facebook, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, delhi news, delhi news in hindi, real time delhi city news, real time news, delhi news khas khabar, delhi news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2022 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved