• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

पीएम मोदी ने सभी बड़े मुद्दों पर तोड़ी चुप्पी, कांग्रेस को यूं लिया आड़े हाथ

नई दिल्ली। संविधान निर्माता बाबा भीमराव आंबेडकर की 127वीं जयंती से एक दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को दिल्ली के अलीपुर रोड स्थित डॉ. भीमराव अंबेडकर मेमोरियल का उद्घाटन किया। इस मौके पर पीएम मोदी ने कांग्रेस को जमकर आड़े हाथ लिया। साथ ही पीएम ने अपनी सरकार की उपलब्धियों का भी बखान किया। पीएम मोदी ने कांग्रेस को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि चुनाव से पहले आरक्षण खत्म करने की अफवाह फैलाना उनका काम है। भाई से भाई को लड़ाने में कांग्रेस कोई कसर नहीं छोड़ रही है। कांग्रेस नहीं चाहती है कि दलित मुख्य धारा में आएं। उन्होंने कहा कि बाबासाहेब की जयंती से देश में ग्राम स्वराज्य की शुरुआत होने जा रही है। क्षेत्रीय विकास में होने वाले असंतुलन को रोकने के लिए इसकी शुरुआत होगी। पीएम मोदी ने उन्नाव कांड और कठुआ गैंगरेप पर अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि जिन बेटियों के साथ अन्याय हुआ, उन्हें न्याय मिलकर रहेगा।

दलित अत्याचार रोकने के लिए कानून सख्त: मोदी

पीएम मोदी ने कहा, हमारी ही सरकार है जिसने 2015 में हमारी सरकार बनने के बाद दलितों पर होने वाले अत्याचार को रोकने के लिए कानून को और सख्त कर दिया गया है। हमने 22 अपराधों को 47 कर दिया है। जब माननीय सुप्रीम कोर्ट ने इस अधिनियम से जुड़ा फैसला दिया तो सरकार ने तुरंत पुनर्विचार याचिका भी दाखिल की। लेकिन लोगों को पता नहीं है कि इस बीच 6 दिन की छुट्टी थी। दलितों के सम्मान और अधिकार के लिए हमारी सरकार पूरी तरह प्रतिबद्ध है। एसटी/एससी मामलों की सुनवाई के लिए स्पेशल कोर्ट का गठन किया जा रहा है। सरकार ने कमिशन के गठन का निर्णय भी किया है। सरकार ओबीसी समुदाय में अति पिछड़ों को आरक्षण का और ज्यादा फायदा देना चाहती है। इसीलिए सब कैटिगरी बनाने के लिए कमिशन बनाया गया है।

बाबासाहेब के बहाने कांग्रेस पर साधा निशाना

पीएम मोदी ने कहा, पहले सरकार और सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों में काम कर रहे कर्मचारियों में क्रीमी लेयर की समानता नहीं थी। इसकी मांग 24 साल से की जा रही थी। इस सरकार ने असंतुलन खत्म कर दिया है। जिस न्यू इंडिया की मैं बात करता हूं। सरकार ने ऐतिहासिक निर्णय लेते हुए 26 नवंबर को संविधान दिवस घोषित किया। कांग्रेस ने पूरी शक्ति लगा दी थी देश के इतिहास से बाबासाहेब का नाम मिटाने के लिए। जब बाबासाहेब जीवित थे तब भी कांग्रेस ने अपमान में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी।

नेहरू मंत्रिमंडल से बाबासाहेब ने क्यों दिया था इस्तीफा

पीएम मोदी ने कहा, लोगों को जानना जरूरी है कि कैसे बाबासाहेब ने कांग्रेस का चरित्र खोलकर रख दिया था। कांग्रेस और बाबासाहेब के बीच जब संबंध टूटने का आखिरी दौर था। उस समय के बारे में बहुत सारी बातें हैं। साथियो, तमाम विवादों की वजह से बाबासाहेब ने पं. नेहरू जी के मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया था। बाबासाहेब ने लिखा था,, मुझे कैबिनेट की किसी कमिटी में नहीं लिया गया। न ही विदेशी मामलों की कमिटी में। आर्थिक मामलों की कमिटी में लगा कि मुझे शामिल किया जाएगा लेकिन मुझे उसमें भी छोड़ दिया गया। उन्हें मंत्रिमंडल के विस्तार के समय किसी मंत्रालय की अतिरिक्त जिम्मेदारी भी बाबासाहेब को नहीं दी गई। अपने बयान में बाबासाहेब ने लिखा था, सरकार से मेरा मोहभंग होने की वजह है, यह दलितों से जुड़ा है। मुझे अफसोस है कि संविधान में पिछड़ी जातियों के लिए उचित कानून नहीं है। संविधान को लागू हुए एक साल से ज्यादा का समय हो चुका है लेकिन सरकार ने अब तक आयोग गठित करने के बारे में सोचा तक नहीं है।

आरक्षण खत्म करने की अफवाह फैला रही है कांग्रेस

पीएम मोदी ने कांग्रेस को आड़े हाथ लेते हुए कहा, आज 70 साल की कांग्रेस संसद में ओबीसी कमिशन को संवैधानिक दर्जा देने के काम को रोकने का काम कर रही है। कांग्रेस द्वारा भ्रम फैलाया जाता है कि उसने बाबासाहेब को कानून मंत्री बनाया। बाबासाहेब देश के संविधान निर्माता था। उन्होंने कांग्रेस के सिस्टम के आगे घुटने नहीं टेक। जिन लोगों ने ऐसा किया उन्हें किताबों में भी जगह नहीं दी गई। खुद नेहरू जी बाबासाहेब को लोकसभा चुनाव में हराने के लिए प्रचार करने पहुंच गए थे। पीएम मोदी ने कहा साथियो, मैं आज कांग्रेस को चुनौती देता हूं कि वे एक काम बता दें कि उन्होंने बाबासाहेब के सम्मान के लिए किया हो। बाबासाहेब को भारत रत्न तब मिला जब बीजेपी के सहयोग से वीपी सिंह की सरकार थी। जिस महापुरुष ने सेंट्रल हॉल में संविधान को रचा हो, कांग्रेस शासन में उसी के लिए तस्वीर लगाने की जगह नहीं थी। बीजेपी की सरकार में उनकी तस्वीर सेंट्रल हॉल में लगी। चुनाव से पहले आरक्षण खत्म करने की अफवाह फैलाना उनका काम है।

जिन बेटियों के साथ अन्याय हुआ, उन्हें न्याय मिलेगा

उन्नाव कांड और कठुआ गैंगरेप पर अपनी चुप्पी तोड़ते हुए पीएम मोदी ने कहा, जिन बेटियों के साथ अन्याय हुआ, उन्हें न्याय मिलकर रहेगा। जिस तरह की घटनाएं हमने बीते दिनों में देखी हैं, वे सामाजिक न्याय की अवधारणा को चुनौती देती हैं। पिछले 2 दिनों से जो घटनाएं चर्चा में है, वे निश्चित रूप से किसी भी सभ्य समाज के लिए शर्मनाक हैं। एक समाज के रूप में, एक देश के रूप में हम सब इस के लिए शर्मसार है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-PM Modi says, Congress left no stone un-turned to insult Ambedkar when he was alive
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: pm modi says, congress left no stone un-turned to insult ambedkar when he was alive\r\n, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, delhi news, delhi news in hindi, real time delhi city news, real time news, delhi news khas khabar, delhi news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2018 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved