• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

गुलामी नबी आजाद ने कहा, वाजपेयी मरने के बाद सभी दलों को इकट्ठा कर गए

prayer meeting:The prayer meeting of former Prime Minister Atal Bihari Vajpayee - Delhi News in Hindi

नई दिल्ली। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने के लिए इंदिरा गांधी स्टेडियम में सार्वजनिक, सर्वदलीय प्रार्थना सभा आयोजित की गई।पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि वे देशवासियों के उसूलों के लिए काम करने वाला नेता थे।मोदी ने अटल बिहारी के योगदान पर कहा कि अटल ने अपने काम से देश को हर क्षेत्र में आगे बढ़ाया। परमाणु परीक्षण से लेकर कश्मीर तक अटल ने एक ऐसी नीति बनाई जहां से भारत की दुनिया में मजबूत पहचान बनी। कश्मीर पर अटल बिहसार वाजपेयी की दूर दृष्टि के कारण ही पूरी दुनिया का नजरिया बदलने लगा और पूरी दुनिया में आतंकवाद की चर्चा होने लगी।

मोदी ने कहा कि जब अटल ने राजनीति की शुरुआत की उस काल मे राजनीति की मुख्यधारा के निकट कोई दूर तक अन्य कोई विचारधारा नहीं थी। पल-पल अपमानित करने का प्रयास होने के बाद भी और अलग विचार होने के बाद भी उन्होंने राष्ट्र के प्रति समर्पण होने कारण शून्य में सृष्टि का निर्माण कैसे होता यह काम अटल बिहारी वाजपेयी ने कर दिखाया।

पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवानी ने कहा है कि 65 साल उनके साथ रहे हैं। सिनेमा साथ-साथ देखते और पुस्तकें पढते थे। अडवानी ने भावुक होकर कहा कि अटलजी का 65 सालों का साथ छूट गया। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि पहले वे नेता है जिन्होंने पांच साल सबसे पहले गठबंधन की सरकार चलाई। उन्होंने कारगिल युद्ध, परमाणु परीक्षण उनकीे प्रतिभा को दर्शाता है। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि हम अपनी पार्टी के अलावा किसी का भाषण सुनने आते थे, वो केवल अटलजी थे। उनके भाषण देने की शैली कुछ अलग थी। उनके भाषणों के माध्यम से गाली क्यों नहीं दी हो लेकिन वो अच्छी लगती थी। गुलामी नबी आजाद ने कहा है कि वाजपेयी अपने मरने के बाद सभी दलों को इकट्ठा कर गए।


इस प्रार्थना सभा में मोदी सरकार के तमाम कैबिनेट मंत्रियों अलावा विपक्षी दलों के नेता और विभिन्न क्षेत्रों की गणमान्य हस्तियां मौजूद थे। उल्लेख है कि लंबी बीमारी के बाद अटल बिहारी वाजपेयी का बीते 16 अगस्त को दिल्ली के एम्स अस्पताल में निधन हो गया था। इसके बाद केंद्र सरकार ने 7 दिन के राष्ट्रीय शोक का ऐलान कर दिया गया था। वाजपेयी के निधन पर कई राज्यों में भी राजकीय शोक का ऐलान किया गया था।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-prayer meeting:The prayer meeting of former Prime Minister Atal Bihari Vajpayee
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: prayer meeting, atal bihari vajpayee, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, delhi news, delhi news in hindi, real time delhi city news, real time news, delhi news khas khabar, delhi news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2018 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved