• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

चिदंबरम ने कहा, सरकार के पास खर्च के लिए पैसे नहीं, संख्या के जरिये छिपाई अपनी स्थिति

नई दिल्ली। अर्थव्यवस्था की स्थिति को लेकर सरकार पर जोरदार हमला करते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी.चिदंबरम ने सोमवार को कहा कि सरकार ने संख्या के जरिए मौजूदा स्थिति को छिपा दिया है और उसके पास खर्च करने के लिए पैसे नहीं हैं। चिदंबरम ने राज्यसभा में केंद्रीय बजट पर चर्चा की शुरुआत करते हुए कहा, सरकार के पास पैसे नहीं हैं। सरकार ने अपनी स्थिति को संख्या के जरिये छिपाया है। ये संख्या विश्वसनीय नहीं है।

पूर्व वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार के निचले पायदान के अधिकारियों को नोटिस जारी करने की शक्ति देने के बावजूद कॉपोर्रेट टैक्स, व्यक्तिगत आयकर, सीमा शुल्क और जीएसटी जैसे विभिन्न करों में भारी कमी आई है। चिदंबरम ने कहा कि आपने 16.49 लाख करोड़ रुपए (वर्तमान वित्त वर्ष में) का शुद्ध कर राजस्व जुटाने का वादा किया था। दिसंबर तक आपने सिर्फ नौ लाख करोड़ रुपए एकत्र किए हैं और आप हमें विश्वास दिला रहे हैं कि साल के अंत तक आप 15 लाख करोड़ एकत्र कर लेंगे।

उन्होंने चालू वित्त वर्ष में सरकार के खर्च पर खराब प्रदर्शन को लेकर हमला किया। उन्होंने कहा कि सरकार ने वित्त वर्ष 20 में 27 लाख करोड़ रुपए खर्च करने का वादा किया था, लेकिन दिसंबर तक यह सिर्फ 11.78 लाख करोड़ रुपए ही खर्च कर सकी। उन्होंने कहा कि आप हमें यह मानने को कहेंगे कि साल के अंत तक आप 27 लाख करोड़ रुपए खर्च करेंगे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Former finance minister P Chidambaram says, Economy close to collapse, fear in country
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: former finance minister p chidambaram, economy, fear in country, p chidambaram, rajya sabha, congress, gst, modi government, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, delhi news, delhi news in hindi, real time delhi city news, real time news, delhi news khas khabar, delhi news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved