• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 3

Jamia University : दिल्ली पुलिस ने कहा-जामिया इलाके में कोई फायरिंग नहीं हुई, कुलपति बोलीं- FIR दर्ज करवाएंगे

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ दिल्ली के जामिया के छात्रों का प्रदर्शन उग्र होने के बाद यूनिवर्सिटी ने आज पांच जनवरी तक छुट्‌टी करने के आदेश दे दिए है। इसके बाद सोमवार सुबह जामिया यूनिवर्सिटी में प्रदर्शन करना प्रारंभ कर दिया है।


अपडेट..-

दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता एम. एस. रंधावा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि प्रदर्शनकारियों ने पुलिस के साथ धक्का-मुक्की की थी इसलिए एक्शन हुआ था। दिल्ली पुलिस ने बताया कि जामिया इलाके में कोई फायरिंग नहीं हुई है।
-हिंसा पर जामिया यूनिवर्सिटी की वाइस चांसलर नजमा अख्तर ने कहा है कि बिना इजाजत यूनिवर्सिटी में पुलिस घुसी थी। लेकिन वे जब कैंपस के बाहर गए तब हमें सूचना दी की हम जा रहे हैं। हम दिल्ली पुलिस के खिलाफ FIR दर्ज कराएंगे। जामिया की वीसी नजमा ने बताया कि यूनिवर्सिटी का बहुत नुकसान हुआ है, हमारा कॉन्फिडेंस, इमोशनल नुकसान हुआ है। इसकी भरपाई कौन करेगा, जो आजकल अफवाहें फैलाई जा रही हैं, यूनिवर्सिटी इसकी निंदा करती है हमारे पास सभी फैक्ट है, किसी भी अफवाह पर ध्यान नहीं दें। जो प्रदर्शन जामिया में नहीं हुआ है, उसे भी जामिया यूनिवर्सिटी के नाम से फैलाया जा रहा है। इससे हमारी यूनिवर्सिटी की इमेज खराब हो रही है।



-अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष सैयद हसन रिजवी ने कहा कि वह प्रदर्शनकारियों से अपील करते हैं, इस तरह से प्रदर्शन नहीं करें। वहीं वह पुलिस से भी अपील करते हैं कि इस तरह की स्थिति पर काबू पाएं। उन्होंने कहा कि CAA हिंदुस्तान के मुस्लिमों के खिलाफ नहीं है, ऐसे में इसके खिलाफ प्रदर्शन की जरूरत नहीं है अगर प्रदर्शन करना भी है तो शांति पूर्ण करें।

-जामिया हिंसा को लेकर बीजेपी कार्यकर्ता ने आप विधायक अमानतुल्लाह खान के खिलाफ शिकायत दर्ज करा दी है। बीजेपी कार्यकर्ता ने AAP विधायक पर विवादित भाषण देने का आरोप लगाया है।

-जामिया हिंसा का मामला सुप्रीम कोर्ट में CJI की कोर्ट में पहुंचा। चीफ जस्टिस एस. ए. बोबड़े ने कहा कि हम किसी को भी आरोपी नहीं बता रहे हैं, बस हम कह रहे हैं कि हिंसा रुकनी चाहिए। हम किसी के खिलाफ कुछ नहीं कह रहे हैं, हम ये भी नहीं कह रहे हैं कि पुलिस या छात्र निर्दोष हैं, CJI ने कहा कि आप छात्र हैं इसलिए आपको हिंसा का अधिकार नहीं मिल जाता है। अगर हिंसा नहीं रुकी तो वह इस मामले में सुनवाई नहीं करेंगे।

-जामिया कैंपस में एक बार फिर छात्रों का प्रदर्शन शुरू हो गया है। छात्र कड़ाके की इस सर्दी में शर्ट उतारकर प्रदर्शन कर रहे हैं।

-जामिया और AMU में हुई हिंसा का मामला आज चीफ जस्टिस के सामने उठाया जा सकता है। छात्रों के खिलाफ पुलिस ने जो कार्रवाई की है, उसपर जांच कमेटी गठित करने की मांग की गई है।

-जामिया नगर हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस ने दो केस दर्ज कर लिया है। पहला केस न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी थाने में आगजनी, दंगा फैलाने, सरकारी संपत्ति को नुकसान और सरकारी काम में बाधा पहुंचाने का दर्ज हुआ है। दूसरा केस जामिया नगर थाने में दंगा फैलाने, पथराव और सरकारी काम में बाधा करने का केस दर्ज हुआ है। अभी ये साफ नहीं कि ये केस किसके खिलाफ दर्ज हुए हैं।



आपको बताते जाए कि रविवार को दिल्ली पुलिस जामिया कैंपस में घुस गई थी, पुलिसकर्मियों ने अराजक तत्वों के जामिया मिलिया विश्वविद्यालय में घुसे होने के संदेह पर सभी छात्रों को बाहर निकाल दिया था। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर लिखा कि दिल्ली में साउथ ईस्ट जिले में ओखला, जामिया, न्यू फ्रैंड्स कालोनी, मदनपुर खादर क्षेत्र के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल सोमवार को बंद रहेंगे। नागरिकता संशोधन कानून के प्रदर्शन को देखते हुए पश्चिम बंगाल, मालदा, मुर्शिदाबाद, उत्तर दिनाजपुर, हावड़ा में इंटरनेट की सुविधा को बंद किया गया है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Delhi: Students start leaving from Jamia University is closed till January 5 following yesterday incident
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: delhi, jamia millia islamia university, jamia students, citizenship amendment act, जामिया यूनिवर्सिटी, नागरिकता संशोधन कानून\r\n, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, delhi news, delhi news in hindi, real time delhi city news, real time news, delhi news khas khabar, delhi news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved