• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

चीन ने भारत के साथ शांति, साझेदारी, समृद्धि की बात की

China talks about peace, partnership, prosperity with India - Delhi News in Hindi

नई दिल्ली/बीजिंग। चीन ने रविवार को भारत के साथ शांति, साझेदारी और समृद्धि की बात करते हुए जोर दिया कि वह नई दिल्ली के साथ सीमा विवाद को बातचीत और परामर्श के माध्यम से निपटाने के लिए प्रतिबद्ध है।
पिछले महीने लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास दोनों देशों की सेनाओं के हटने के बाद, नई दिल्ली ने एक सप्ताह पहले बीजिंग को चेतावनी दी थी कि शेष सीमा मुद्दों को लंबा खिंचना दोनों पक्षों के हित में नहीं है।
चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने रविवार को अपनी वार्षिक प्रेस बैठक में कहा कि पिछले साल सीमा क्षेत्र में जो कुछ भी हुआ, उसका सही और गलत अर्थ स्पष्ट है। उन्होंने कहा, "यह फिर से साबित करता है कि टकराव शुरू करने से समस्या हल नहीं होगी। शांतिपूर्ण बातचीत पर लौटना ही सही रास्ता है।"
उन्होंने कहा कि चीन की स्थिति बहुत स्पष्ट है। उन्होंने कहा, "हम बातचीत और परामर्श के जरिए सीमा विवाद को निपटाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।"
विदेश मंत्री ने कहा, "चीन और भारत एक-दूसरे के मित्र और साझेदार हैं, प्रतिद्वंद्वी नहीं हैं। दोनों को एक-दूसरे को नीचा दिखाने के बजाय एक-दूसरे की मदद करने की आवश्यकता है। हमें एक-दूसरे पर संदेह करने के बजाय सहयोग तेज करना चाहिए।"
सीमा विवाद, इतिहास का एक मुद्दा है, जो चीन-भारत संबंधों की पूरी कहानी नहीं है। उन्होंने कहा, "यह महत्वपूर्ण है कि दोनों पक्ष विवाद को ठीक से प्रबंधित करें और मुद्दे के निपटान के लिए सक्षम स्थिति बनाने का प्रयास करें।"
पैंगोंग सो क्षेत्र में एलएसी के पास विवाद के बाद, गोगरा-हॉट स्प्रिंग्स क्षेत्र, देमचोक और देपसांग मैदानों में अन्य विवादों पर कोई प्रगति नहीं हुई है।
हालांकि, रविवार को, वांग ने कहा कि यह दोनों पक्षों पर है किमौजूदा सहमति को मजबूत किया जाए, संवाद और संचार को मजबूत किया जाए और सीमा क्षेत्रों में शांति लिए विभिन्न प्रबंधन तंत्र में सुधार किया जाए।
उन्होंने कहा, "आगे आने वाले वर्ष में, बीजिंग उम्मीद करता है कि दोनों देशों के नेताओं के बीच महत्वपूर्ण आम समझ विकसित होगी और दोनों देश यह समझेंगे कि चीन और भारत एक दूसरे के लिए खतरा नहीं हैं, बल्कि एक दूसरे के लिए विकास के अवसर हैं।"
चीन के विदेश मंत्री ने कहा कि शी जिनपिंग और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, चीन और भारत के लोगों के लिए अधिक से अधिक लाभा पहुंचा सकते हैं।
--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-China talks about peace, partnership, prosperity with India
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: china talks about peace, partnership, prosperity with india, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, delhi news, delhi news in hindi, real time delhi city news, real time news, delhi news khas khabar, delhi news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2022 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved