• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

Chandrayaan-2 : चंद्रमा की सतह से महज 2 KM पहले लैंडर से संपर्क टूटा

नई दिल्ली। भारत के चंद्र मिशन को शनिवार तड़के उस समय झटका लगा, जब लैंडर विक्रम से चंद्रमा के सतह से महज दो किलोमीटर पहले इसरो का संपर्क टूट गया। इसके साथ ही 978 करोड़ रुपए लागत वाले चंद्रयान-2 (Chandrayaan-2) मिशन का भविष्य अंधेरे में झूल गया है। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अध्यक्ष के. सिवन ने संपर्क टूटने की घोषणा करते हुए कहा कि चंद्रमा की सतह से 2.1 किमी पहले तक लैंडर का प्रदर्शन योजना के अनुरूप था।

अपडेट...

- विक्रम लैंडर से संपर्क टूटने के बाद पीएम मोदी ने इसरो सेंटर में वैज्ञानिकों का हौसला बढ़ाया। उन्होंने वैज्ञानिकों की काफी तारीफ की।

- चांद से 2.1 किमी दूर तक चंद्रयान-2 से संपर्क था मगर फिलहाल संपर्क टूट गया है। ISRO चीफ के अनुसार अभी आंकड़ों का इंतजार किया जा रहा है।

- ISRO चीफ ने कहा, विक्रम लैंडर से संपर्क टूटा। आगे के आंकड़ों का इंतजार किया जा रहा है। आंकड़ों का अध्ययन किया जा रहा है।

-पीएम मोदी इसरो (ISRO) मुख्यालय में वैज्ञानिकों और कुछ चुनिंदा छात्रों के साथ इस ऐतिहासिक पल को देखेंगे।

- कुछ ही घंटों के बाद चंद्रयान-2 चांद पर लैंडिंग करेगा। इस ऐतिहासिक क्षण का वैज्ञानिकों से साथ साक्षी बनने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देर शाम बेंगलुरू पहुंचे हैं।

- भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) चीफ के सिवन ने कहा, चंद्रयान 2 मिशन ऐसी जगह पर जाएगा जहां आज तक कोई नहीं गया हैं।

- चंद्रयान-2 आज रात डेढ़ से ढाई बजे के बीच चांद की सतह पर उतरेगा। इससे पहले भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) चीफ के सिवन ने कहा कि हम एक ऐसी जगह पर उतरने जा रहे हैं, जहां पहले कोई नहीं गया था। हम सॉफ्ट लैंडिंग के बारे में आश्वस्त हैं। हम रात का इंतजार कर रहे हैं।

- पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने चंद्रयान 2 को लेकर कहा है कि यह आर्थिक आपदा से ध्यान हटाने की कोशिश है। ममता ने कहा कि मानो देश में पहली बार ऐसा हो रहा हो। जैसा कि सत्ता में आने से पहले इस तरह के किसी भी मिशन को अंजाम नहीं दिया गया था।

- भारत के मून लैंडर-विक्रम की चांद पर सफल लैंडिंग सुनिश्चित करने के लिए तमिलनाडु के तंजावुर जिला स्थित चंद्रनार मंदिर में विशेष प्रार्थना की जाएगी। विक्रम को शुक्रवार देर रात चंद्रमा पर उतरना है।

- चंद्रयान-2 पर पीएम मोदी ने देश के लोगों से अपील करते हुए कहा है कि बेहद उत्साहित हूं, पूरा देश देखे यह ऐतिहासिक पल।

- दुनिया में चन्द्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर पहुंचने वाला पहला देश बनेगा।

18 सितंबर, 2008 को तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने चंद्रयान-2 मिशन को मंजूरी प्रदान की थी। अब आज 11 साल बाद ये मिशन पूरा होने जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी आज रात बेंगलुरु में इसरो सेंटर में मौजूद रहेंगे और इस ऐतिहासिक पल के साक्षी बनेंगे।

- विक्रम लैंडर के अंदर ही प्रज्ञान रोवर है, जो सॉफ्ट लैंडिंग के बाद बाहर निकलेगा। यह चंद्रयान-2 का ऑर्बिटर चांद से करीब 140 किलोमीटर ऊपर चक्कर लगाता रहेगा। इसके जरिए ऑर्बिटर 2 साल तक चांद की तस्वीरें भेजेगा। चंद्रयान-2 की लैंडिंग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ-साथ 74 बच्चे भी देखेंगे। इनका चयन क्विज के जरिए हुआ है।

देश-दुनिया के लोग शुक्रवार रात होने वाली इस 'सॉफ्ट लैंडिंग' का गवाह बनने के लिए बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। यदि विक्रम लैंडर की यह सॉफ्ट लैंडिंग अगर कामयाब रहती है तो रूस, अमेरिका और चीन के बाद भारत ऐसी उपलब्धि हासिल करने वाला दुनिया का चौथा देश बन जाएगा। इसके साथ ही भारत चांद के दक्षिणी ध्रुव पर पहुंचने वाला विश्व का पहला देश भी बनने वाला है।
बताया जा रहा है कि विक्रम लैंडर शुक्रवार रात एक से दो बजे के बीच चांद पर उतरने के लिए नीचे की ओर चलना शुरू करेगा और रात डेढ़ से ढाई बजे के बीच यह पृथ्वी के उपग्रह के दक्षिणी ध्रुव क्षेत्र में उतरने में सफलता हासिल करेगा।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Chandrayaan-2 will land on the moon today
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: chandrayaan-2, land, moon, चंद्रयान-2, विक्रम लैंडर, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, delhi news, delhi news in hindi, real time delhi city news, real time news, delhi news khas khabar, delhi news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved