• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

ब्रिटेन ने प्रधानमंत्री मोदी को जी7 शिखर सम्मेलन के लिए आमंत्रित किया

Britain invites Prime Minister Modi for G7 summit - Delhi News in Hindi

नई दिल्ली/लंदन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने इस साल जून में ब्रिटेन में होने वाले जी7 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया है। यह शिखर सम्मेलन 11 से 13 जून तक इंग्लैंड के कॉर्नवॉल क्षेत्र में होगा।

पिछले साल अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन पर चर्चा करने के लिए जी7 बैठक के लिए प्रधानमंत्री मोदी को आमंत्रित किया था।

नई दिल्ली में रविवार को ब्रिटिश उच्चायोग द्वारा जारी एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि, "प्रधानमंत्री जॉनसन जी7 प्रेसीडेंसी का इस्तेमाल करेंगे, ताकि कोरोनावायरस से दुनिया को बेहतर बनाने में मदद मिल सके और हरित, निष्पक्ष और अधिक समृद्ध भविष्य का निर्माण हो सके।"

जी7 में शामिल देश यानी, ब्रिटेन, कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, अमेरिका - यूरोपीय संघ के साथ एकमात्र मंच है, जहां दुनिया के सबसे प्रभावशाली और खुले समाज और उन्नत अर्थव्यवस्थाएं आपसी सद्भाव से चर्चा के लिए एक साथ आती हैं।

ब्रिटेन ने ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण कोरिया के प्रमुखों को भी अतिथि देशों के रूप में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया है।

बयान में कहा गया है कि प्रधानमंत्री जॉनसन की महत्वाकांक्षा जी7 का उपयोग दुनिया के लोकतांत्रिक और तकनीकी रूप से उन्नत राष्ट्रों के बीच सहयोग को तेज करना है। उनमें से 10 नेता दुनियाभर के लोकतंत्रों में रहने वाले 60 प्रतिशत से अधिक लोगों का प्रतिनिधित्व करते हैं।

जी7 को लोकतांत्रिक देशों का सबसे प्रमुख समूह बताते हुए जॉनसन ने कहा, "हमारे द्वारा सामना किए गए बड़ी चुनौतियों में यह लंबे समय से निर्णायक अंतर्राष्ट्रीय कार्रवाई के लिए उत्प्रेरक है।"

उन्होंने कहा, "रूस के क्रीमिया के विनाश की हमारी वैश्विक निंदा करने के लिए विकासशील विश्व ऋण को रद्द करने से दुनिया ने हमारे साझा मूल्यों को लागू करने के लिए जी7 पर ध्यान दिया है और राजनयिक एक अधिक खुले और समृद्ध ग्रह का निर्माण कर सकते हैं।"

कोरोनावायरस को लेकर उन्होंने कहा, "निस्संदेह सबसे विनाशकारी है और आधुनिक विश्व व्यवस्था का सबसे बड़ा परीक्षण जो हमने अनुभव किया है। इससे निपटने का एक ही तरीका है कि हम बेहतर भविष्य बनाने के लिए खुलेपन की भावना के साथ एकजुट होकर बेहतर निर्माण की चुनौती का सामना करते हैं।"

बयान में कहा गया है कि "वैश्विक फार्मेसी के रूप में भारत पहले से ही दुनिया के 50 प्रतिशत से अधिक वैक्सीन की आपूर्ति करता है, और ब्रिटेन और भारत ने पूरे महामारी में एक साथ मिलकर काम किया है।"

यह याद करते हुए कि ब्रिटेन, भारत के लिए यूएनएससी में स्थायी सदस्यता का समर्थन करने वाला पहला पी5 सदस्य और 2005 में जी7 शिखर सम्मेलन में भारत को आमंत्रित करने वाला पहला जी7 सदस्य था, ब्रिटेन सरकार ने कहा कि 2023 में वर्तमान ब्रिक्स अध्यक्ष और जी20 अध्यक्ष के रूप में, भारत दुनियाभर में बहुपक्षीय सहयोग स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Britain invites Prime Minister Modi for G7 summit
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: prime minister narendra modi, britain, prime minister boris johnson, g7 summit\r\n, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, delhi news, delhi news in hindi, real time delhi city news, real time news, delhi news khas khabar, delhi news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2021 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved