• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

बाटला हाउस फ्लैट नम्बर 108, 12 साल बाद भी घटना को याद करने से कतराते पड़ोसी

Batla House flat number 108, neighbors shy away from remembering the incident even after 12 years - Delhi News in Hindi

नई दिल्ली। दिल्ली के बाटला हाउस एनकाउंटर में शहीद इंस्पेक्टर मोहन चंद्र शर्मा की 12वीं पुण्यतिथि में उन्हे याद किया गया। दरअसल दिल्ली बाटला हाउस में आतंकियों के साथ मुठभेड़ के दौरान इंस्पेक्टर मोहन चंद्र शर्मा घायल हो गए थे। इलाज के दौरान 19 सितंबर 2008 को उनकी मृत्यु हो गई थी। बाटला हाउस एनकाउंटर को इतने वर्षों बाद भी देशवासी भूल नहीं पाए हैं। वहीं बाटला हाउस निवासी आज भी उस घटना को याद करने से कतराते हैं।

बाटला हाउस एल ब्लॉक में रेस्टोरेंट के मालिक ने आईएएनएस को बताया, "अभी तो यहां सब कुछ नॉर्मल है। सुबह का वक्त था और रमजान का महीना था। मेरा एक कारीगर आया और बोला रिफाइंड तेल खत्म हो गया है। जैसे ही मैं अपने घर से गली में आया तो अचानक गोलियां चलने की आवाज सुनाई दीं। मैं कुछ समझ नहीं पाया कि आखिर हुआ क्या?"

"आस पास के इलाके की सारी दुकानें बंद होना शुरू हो गई थीं, देखते ही देखते इलाके में दहशत का माहौल बन गया। उस हादसे के बाद इलाका बदनाम भी हुआ। उस वक्त यहां स्टूडेंट्स रहते थे, सब अपने-अपने घर चले गए, किसी के माता-पिता ने बच्चों को वापस नहीं भेजा।"

"सालभर इस इलाके में खामोशी रही, उस हादसे के बाद मेरा कारोबार तक ठप हो गया था।"

बाटला हाउस के एल 18 में रहने वाले एक शख्स ने आईएएनएस को बताया, "इस बारे में कोई बात नहीं करेगा, आज भी हर किसी को सब कुछ याद है। मैं हाल ही में इस मकान में शिफ्ट हुआ हूं, मुझसे आज भी मेरे रिश्तेदार पूछते हैं।"

"मैं जब भी एयरपोर्ट जाता हूं तो, चेकिंग के दौरान जब वहां मौजूद सुरक्षाकर्मी मेरा पता देखते हैं, तो मुझे एक बार देखते हैं और बस इशारों में पूछते है कि क्या ये वही मकान है?"

उन्होंने बताया कि "मुझे नहीं लगता की इस फ्लैट में उस वक्त से कोई रह रहा है, मुझे कुछ साल हो गए यहां, मैंने आज तक किसी को नहीं देखा। शायद किसी ने अब तक इस फ्लैट को खोला ही नहीं। फ्लैट के सामने एक फैमली रहती है, लेकिन वो भी शायद अभी नहीं है।"

दरअसल 13 सितंबर 2008 को दिल्ली के करोल बाग, कनॉट प्लेस, इंडिया गेट और ग्रेटर कैलाश में हुए सीरियल बम ब्लास्ट में 26 लोग मारे गए थे, जबकि 133 जख्मी हुए थे। दिल्ली पुलिस ने उस वक्त जांच में पाया था कि, बम ब्लास्ट को आतंकी संगठन इंडियन मुजाहिद्दीन ने अंजाम दिया।

19 सितंबर को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को सूचना मिली थी कि इंडियन मुजाहिद्दीन के पांच आतंकी बाटला हाउस के एक फ्लैट में किराए पर मकान लेकर रह रहें हैं।

19 सितंबर 2008 की सुबह इंस्पेक्टर मोहन चंद शर्मा आतंकियों को पकड़ने के लिए टीम लेकर बाटला हाउस में बिल्डिंग नंबर एल-18 के फ्लैट नंबर 108 में पहुंचे। उसी वक्त आतंकियों के साथ मुठभेड़ में उन्हें तीन गोलियां लग गईं। बाद में इलाज के दौरान उन्होंने अस्पताल में दम तोड़ दिया था। इस दौरान दो आतंकियों को मार गिराया गया था।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Batla House flat number 108, neighbors shy away from remembering the incident even after 12 years
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: batla house, flat no 108, 12 years later, remember the incident, neighbor, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, delhi news, delhi news in hindi, real time delhi city news, real time news, delhi news khas khabar, delhi news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved