• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

रायपुर के साइंस कॉलेज के मैदान में छग की संस्कृति, समृद्धि और विकास का संगम

The confluence of culture, prosperity and development of Chhag in the grounds of Science College, Raipur - Raipur News in Hindi

रायपुर। छत्तीसगढ़ कैसा, संस्कृति कितनी समृद्ध है और विकास की रफ्तार क्या है, इस जाहिर करने वाले संगम का नजारा देखने को मिल रहा है। राजधानी रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में। यहां राज्य की संस्कृति के साथ विकास का संगम नजर आ रहा है।

राज्य सरकार गुरुवार को ग्रामीण मजदूर वर्ग के लिए राजीव गांधी भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना शुरू करने जा रही है। इसकी शुरुआत सांसद राहुल गांधी करने वाले हैं, साथ ही राजीव मितान क्लब योजना के तहत राशि का आवंटन किया जाएगा। इसके अलावा वहीं वर्धा की तर्ज पर नवा रायपुर में बनने वाले सेवा ग्राम की आधारशिला रखी जाएगी।

साइंस कॉलेज के मैदान को आयोजन के लिए भव्य और आकर्षक रुप दिया जा रहा है। यहां रायपुर के सात डोम बनाए गए है, मुख्य डोम में जहां कार्यक्रम होगा, वहीं इन डोमों में अलग-अलग जिलों द्वारा छत्तीसगढ़ में विकास गाथा को दर्शाती प्रदर्शनी लगाई जाएगी। साथ ही फ्लैगशिप योजनाओं को विभिन्न मॉडलों के माध्यम से दिखाया जाएगा।

छत्तीसगढ़ की पहचान में बड़ा हिस्सा बस्तर की संस्कृति और प्राकृतिक तौर पर संपन्नता रहा है, इसी को ध्यान में रखकर इस क्षेत्र की उपलब्धियों को दर्शाने के लिए एक डोम बनाया जा रहा है। इस डोम में प्रवेश द्वार पर वैश्विक ब्रांड बन चुके डेनेक्स का स्टॉल होगा। वहीं डोम के चारों ओर बस्तर में विष्वास, विकास और सुरक्षा के ध्येय को लेकर काम को शिक्षा, पुलिस प्रशासन, स्वास्थ्य, सुपोषण, कृषि, वनोपज व हर्बल उत्पाद, उद्यानिकी और कलागुड़ी के स्टॉल में दर्शाया जाएगा। बस्तर के डोम के केन्द्र में धार्मिक आस्था को मनोरम अंदाज में दर्शाते देवगुड़ी का मॉडल देखने को मिलेगा, जिसके अग्र भाग में आंगा को विराजित किया जाएगा।

राज्य सरकार 'न्याय रू सब्बो बर-सब्बो डहर' के ध्येय को लेकर काम कर रही है। राज्य सरकार सबसे पहले किसानों के लिए न्याय की योजना 'राजीव गांधी किसान न्याय योजना' को अमली जामा पहनाया गया, जिससे किसानों को उनकी लागत की उचित कीमत मिले। किसानों को फसल विविधीकरण एवं उत्पादन व उत्पादकता को बढ़ाने के लिए आदान सहायता (इनपुट सब्सिडी) के रूप में बड़ी धनराशि दी जा रही है।

इसके अलावा 'गोधन न्याय योजना' लागू कर राज्य सरकार गौपालकों, किसानों से दो रुपए प्रति किलो की दर से गोबर की खरीदी कर उन्हें सीधा लाभ दे रही है। इस योजना में खरीदे गए गोबर से गौठानों में वर्मी कम्पोस्ट और सुपर कम्पोस्ट जैसे उत्पाद बनाए जा रहे हैं, जिससे जैविक कृषि को बढ़ावा देने की दिशा में काम हो रहा है। साथ ही स्व-सहायता समूहों की महिलाओं व उनके परिवार को आर्थिक संबलता और समृद्धि मिल रही है। इसी क्रम में अब ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर परिवार के लिए एक और योजना शुरू हो रही है। इसमें प्रति वर्ष 6 हजार रुपए की आर्थिक मदद राज्य सरकार की ओर से दी जाएगी। इसके लिए अनुपूरक बजट में 200 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।

इसके साथ ही देश की आजादी के 75 वर्ष पूर्ण होने पर महात्मा गांधी की ग्राम-स्वराज की संकल्पना को अक्षुण्ण बनाए रखने के लिए छत्तीसगढ़ के नवा-रायपुर में भी वर्धा की तर्ज पर सेवा-ग्राम की स्थापना की जा रही है। इसके लिए नवा-रायपुर में 75 एकड़ जमीन चिन्हांकित की गई है। सेवा ग्राम में देश की आजादी की लड़ाई के मूल्यों, सिद्धांतों, आदर्शो को भी रेखांकित किया जाएगा।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-The confluence of culture, prosperity and development of Chhag in the grounds of Science College, Raipur
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: raipur, the grounds of science college, the confluence of culture, prosperity and development of chhattisgarh, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, raipur news, raipur news in hindi, real time raipur city news, real time news, raipur news khas khabar, raipur news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2022 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved