• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 4

AES से बच्चों की मृत्यु का सिलसिला जारी, सरकार-डॉक्टर नहीं कर पा रहे काबू

पटना। एक पखवाड़े से अधिक समय से बिहार के मुजफ्फरपुर और पड़ोसी जिलों में एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) के कारण बच्चे मर रहे हैं, लेकिन डॉक्टर और स्वास्थ्य अधिकारी अभी भी बीमारी की सटीक प्रकृति और सटीक कारण के बारे में अंधेरे में हैं। राज्य और केंद्र सरकारों के पास भी इस संबंध में कोई जानकारी नहीं है। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, मुजफ्फरपुर और पड़ोसी जिलों में अबतक 113 बच्चों की मौत हो चुकी है।

बिहार के स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने यहां बताया कि कुल 113 मौतों में से 91 राजकीय श्रीकृष्णा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (एसकेएमसीएच), 16 निजी केजरीवाल अस्पताल (दोनों मुजफ्फरपुर में), दो पटना के नालंदा मेडिकल कॉलेज में और चार अन्य जिलों में हुई हैं। इस साल राज्य में अब तक 501 एईएस के मामले सामने आए हैं।

डॉक्टरों और स्वास्थ्य अधिकारियों के एईएस महामारी के पीछे के कारकों और मौतों के कारण पर अलग-अलग विचार हैं। इस भ्रम ने एईएस के मौसमी प्रकोप से निपटने या नियंत्रित करने की प्रक्रिया को और जटिल कर दिया है, जो हर साल आता है।

बिहार के मुख्य सचिव दीपक कुमार ने सार्वजनिक रूप से स्वीकार किया है कि यहां तक कि सरकार को भी स्पष्ट रूप से पता नहीं है कि वास्तव में एईएस के प्रकोप के पीछे का कारण क्या है, जो 1995 से मुजफ्फरपुर में नियमित रूप से दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा, हमें अभी भी पता नहीं है कि यह लीची के सेवन, कुपोषण या उच्च तापमान और आद्र्रता जैसी पर्यावरणीय स्थितियों के कारण कुछ वायरस, बैक्टीरिया, टॉक्सिन प्रभाव के कारण हुआ है या नहीं।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-AES continuous taking many children lives in bihar, governments and doctors have no solution
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: aes, many children lives, bihar, governments, doctors, skmch, kejriwal hospital, acute encephalitis syndrome, nitish kumar, narendra modi, harshvardhan, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, patna news, patna news in hindi, real time patna city news, real time news, patna news khas khabar, patna news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved