• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

असम-मिजोरम सीमा पर तनाव, अलर्ट पर सुरक्षा बल

Tension in Assam-Mizoram border, security forces on alert - Silchar News in Hindi

सिलचर/आइजोल। असम और मिजोरम पुलिस के बीच खूनी संघर्ष के पांच दिनों के बाद, दोनों पूर्वोत्तर राज्यों की अंतर-राज्यीय सीमाएं शांत हैं, लेकिन किसी भी ताजा घटना को रोकने के लिए सुरक्षा कर्मियों को अतिरिक्त अलर्ट पर रखा गया है। बुलेट प्रूफ जैकेट पहने कछार जिले की एसपी रमनदीप कौर और उपायुक्त कीर्ति जल्ली सुरक्षा बलों की एक बड़ी टुकड़ी के साथ बुलेट प्रूफ वाहनों में अशांत सीमावर्ती इलाकों में चले गए।

सीमा संबंधी परेशानियों के कारण, मिजोरम सरकार के अनुरोध पर प्रतिक्रिया देते हुए, इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन ने ममित जिले में वैकल्पिक सड़कों के माध्यम से सड़क मार्ग से मिजोरम को परिवहन ईंधन की आपूर्ति शुरू कर दी है, जिससे कछार-कोलासिब मार्गों की परेशानी से बचा जा सके।

मिजोरम सरकार ने पड़ोसी राज्य त्रिपुरा और मणिपुर से कई अन्य आवश्यक सामान लाने के लिए भी कदम उठाए हैं।

मिजोरम मणिपुर के साथ 95 किमी और त्रिपुरा के साथ 109 किमी की अंतर-राज्यीय सीमा साझा करता है।

इस बीच, राजनीतिक लाइनों से परे, असम विधानसभा के अध्यक्ष बिस्वजीत दैमारी के नेतृत्व में 10 सदस्यीय सर्वदलीय विधायक दल ने सीमावर्ती क्षेत्रों का दौरा किया और मिजोरम से गोलीबारी का कड़ा विरोध किया, जिसमें असम के छह पुलिसकर्मी मारे गए और कई घायल हो गए।

दैमारी ने कहा, "जिस तरह मिजोरम में सभी पार्टियां मिजोरम की सीमाओं की रक्षा के लिए एकजुट हैं, हमारे राज्य (असम) में भी सभी दलों को एकजुट होना चाहिए। यदि वर्तमान नीति और कानून राज्य के आरक्षित वन क्षेत्र में बस्तियों की अनुमति नहीं देते हैं। सीमा सुरक्षा के हित में नई नीतियां बनाने या कानून बनाने की जरूरत है।"

रायजोर दल के अध्यक्ष अखिल गोगोई, जो असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा के कट्टर प्रतिद्वंद्वी भी हैं, उन्होंने कहा, "विधानसभा में हमारी असहमति हो सकती है और राजनीतिक मुद्दों पर मतभेद हो सकते हैं, लेकिन मैं मिजोरम के इस कदम का कड़ा विरोध करता हूं। असम के मुख्यमंत्री के खिलाफ मिजोरम पुलिस द्वारा दर्ज प्राथमिकी वापस लिया जाना चाहिए।"

आइजोल में, मिजोरम केमिस्ट्स एंड ड्रगिस्ट्स एसोसिएशन (एमसीडीए) ने राज्य के मुख्य सचिव को लिखे पत्र में कहा, "असम सरकार ने सुरक्षा चिंता की आड़ में गुवाहाटी में सभी ट्रांसपोर्टरों को मौखिक रूप से निर्देश दिया है कि वे मिजोरम के लिए कोई भी सामान, यहां तक कि दवा भी न ले जाएं।"

एमसीडीए अध्यक्ष और महासचिव ने मुख्य सचिव को बताया, "यहां तक कि निजी कूरियर सेवाओं को मिजोरम के लिए वस्तुओं और सामग्रियों की बुकिंग से रोक दिया गया है। इस कोविड महामारी की स्थिति में, असम द्वारा जीवन रक्षक दवाओं को रोका जा रहा है, जिससे हमारे राज्य में दूरगामी प्रभाव और परिणाम हो सकते हैं।"

असम-मिजोरम सीमा पर 26 जुलाई को हुई हिंसक झड़पों में असम पुलिस के छह जवानों की मौत हो गई थी और करीब 100 नागरिक और सुरक्षाकर्मी घायल हो गए थे। (आईएएनएस)

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Tension in Assam-Mizoram border, security forces on alert
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: tension in assam-mizoram border, security forces on alert, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, silchar news, silchar news in hindi, real time silchar city news, real time news, silchar news khas khabar, silchar news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2021 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved