• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

बचपन के नकारात्मक अनुभवों से होने वाले तनाव के कारण...

लंदन। बचपन में होने वाले नकारात्मक अनुभवों जैसे बीमारी या माता-पिता के तलाक से होने वाले तनाव के कारण किशोरावस्था में दिमाग के कुछ हिस्सों में तेजी से परिपक्वता आती है। एक नए अध्ययन में यह जानकारी सामने आई है।

इस अध्ययन में पाया गया है कि इन अनुभवों के कारण प्रीफ्रंटल कोर्टेक्स और एमिगडला में तेजी से परिपक्वता आती है, जो कि किशोरावस्था में भावनाओं को नियंत्रित करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।
नीदरलैंड के रेडबांड विश्वविद्यालय की अन्ना टाइबोरोव्सका ने बताया, ‘‘यदि आप तनावपूर्ण माहौल में बड़े होते हैं तो क्रमविकास संबंधी परिप्रेक्ष्य से तेजी से परिपक्व होना उपयोगी होता है। हालांकि, यह दिमाग को सुविधाजनक तरीके से वर्तमान वातावरण में समायोजित होने से रोकता है।’’

शोधकर्ताओं ने कहा कि इसके विपरीत, अगर जीवन में बाद के वर्षों जैसे स्कूल में साथियों के कारण पैदा होनेवाले तनाव के कारण दिमाग के हिप्पोकैंपस और प्रीफ्रंटल कोर्टेक्स क्षेत्र किशोरावस्था में धीमी गति से परिपक्व होता है।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Childhood stress makes your brain mature faster: Study
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: childhood, stress, brain mature faster, study, lifestyle news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

लाइफस्टाइल

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2018 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved