• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

दानामेथी, अजवाइन और काली जीरी के पाउडर का सेवन करने से लोगों को क्या फायदा हो रहा है ?

What are the benefits to people of consuming fenugreek, celery and black cumin powder - Home Remedies in Hindi

मेथी (Fenugreek), अजवाइन (Carom seeds) और काली जीरी (Black cumin seeds) पाउडर का सेवन करने से कई फायदे हो सकते हैं। ये सभी मसाले आयुर्वेदिक और स्वास्थ्य संबंधित लाभों के लिए प्रसिद्ध हैं।


कुछ मेथी, अजवाइन और काली जीरी मिक्स पाउडर के फायदे निम्नलिखित हैं:

मेथी (Fenugreek) का पाउडर सेवन कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान कर सकता है। निम्नलिखित कुछ महत्वपूर्ण फायदे हो सकते हैं:


1. डायबिटीज का नियंत्रण:

मेथी का पाउडर रक्त शर्करा स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है। इसमें मौजूद विटामिन, मिनरल्स, और आयुर्वेदिक गुण रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में मदद कर सकते हैं।

2. पाचन को सुधारना:


मेथी का पाउडर पाचन प्रणाली को सुधारने में मदद कर सकता है। इसमें मौजूद फाइबर संक्रमित वसा को कम करने, आंतों की सफाई करने और पाचन प्रक्रिया को बेहतर बनाने में मदद करता है।

3. वजन कम करना:

मेथी का पाउडर वजन कम करने में सहायक हो सकता है। यह भोजन के बाद भूख को कम करने में मदद करता है और वसा घटाने में मदद कर सकता है।

4. हृदय स्वास्थ्य:


मेथी का पाउडर हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है। इसमें मौजूद अदरकिया और फॉलिक एसिड हृदय के लिए उपयोगी होते हैं !

अजवाइन (Ajwain) पाउडर का सेवन करने से कई फायदे हो सकते हैं। यह प्राकृतिक उपचार और आयुर्वेदिक दवाओं में उपयोग होता है। निम्नलिखित तरह के फायदे हो सकते हैं:


1. पाचन शक्ति को सुधारें:

अजवाइन पाचन शक्ति को सुधारने में मदद कर सकता है। इसका सेवन आंत्र को स्टिम्युलेट करता है और अपच और गैस की समस्याओं को कम कर सकता है।

2. साइनस और नजला की समस्याओं को कम करें:

अजवाइन का प्रयोग नाक संबंधी समस्याओं में फायदेमंद हो सकता है, जैसे कि साइनस, नजला, जुकाम आदि। यह नाक के उत्पादन को कम करता है और नाक के बंद होने को दूर कर सकता है।

3. दर्द और इन्फ्लेमेशन को कम करें:

अजवाइन में उपस्थित एंटीइंफ्लेमेटरी और नियंत्रक गुणों के कारण, इसका सेवन दर्द और इन्फ्लेमेशन को कम करने में मदद कर सकता है। इसे ताजगी और राहत के लिए मसाला चाय या घरेलू नुस्खों में उपयोग किया जा सकता है।

4. डायबिटीज को नियंत्रित करने वाला है।

काली जीरी (काला जीरा) पाउडर का सेवन करने से कई फायदे हो सकते हैं। यह पाउडर विभिन्न भारतीय व्यंजनों में मसाला के रूप में उपयोग होता है, और इसका उपयोग आयुर्वेदिक औषधि तथा प्राकृतिक चिकित्सा में भी किया जाता है। यहां कुछ मुख्य फायदे दिए गए हैं:


1. पाचन क्रिया को सुधारें:

काली जीरी पाचन प्रणाली को सुधारने में मदद कर सकती है। इसमें पाचन शक्ति को बढ़ाने और आपामार्ग को सुधारने के गुण होते हैं।

2. गैस और एसिडिटी की समस्या को कम करें:


काली जीरी में मौजूद एंटी-गैस और एंटी-एसिडिटी प्रोपर्टीज के कारण, यह गैस, एसिडिटी, और एसिड रिफ्लक्स जैसी समस्याओं को कम करने में मदद कर सकती है।

3. आंत्र की सफाई:

काली जीरी में प्राकृतिक उच्च अवशोषण क्षमता होती है, जिसके कारण यह आंत्र की सफाई को बढ़ा सकती है और कीटाणुओं के विरोधी गुण दिखा सकती है।

4. यह मिश्रण वजन कम करने में बहुत सहायता करता है।

डा0पीयूष त्रिवेदी आयुर्वेद चिकित्सा प्रभारी राजस्थान विधान सभा जयपुर।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-What are the benefits to people of consuming fenugreek, celery and black cumin powder
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: dr piyush trivedi, ayurveda medical incharge, rajasthan legislative assembly jaipur
Khaskhabar.com Facebook Page:

लाइफस्टाइल

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2024 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved