• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

प्रकाश पर्व विशेष: गुरुनानक ने अपने भक्तों को क्या दिया था संदेश , जानिए

गुरु नानक देव सिख धर्म के संस्थापक थे। उन्होंने समाज फैल रहे अंधविश्वास और असमानता को दूर करने के लिए सिख धर्म की नींव रखी थी। उनका कहना था कि जो धर्म व्यक्ति को सीख प्रदान करें वह धर्म सर्वोपरि है। जो धर्म असमानता का जहर घोले वह धर्म नहीं आडम्बर है। उनका मुख्य संदेश कुरीतियों, असमानता और ईश्वर में विश्वास करने का दिया था। उनका जन्म रावी नदी के तट पर बसे एक गांव तलवंडी (अब पाकिस्तान) में कार्तिक पूर्णिमा के दिन हुआ था। वे बचपन से ही धार्मिक प्रवृति के बताए जाते थे। सिख धर्म में गुरु नानक के जन्मदिन को प्रकाश पर्व के रूप में हर्षोल्लास से मनाया जाता है। इनके जन्म को लेकर कई विद्वान में आज भी मतभेद बने हुए हैं। इसका मुख्य कारण लूनर कैलेंडर में ग्रहों की दशा और चाल परिवर्तित होती रहती है। इसलिए सोलर कैलेंडर या अंग्रेजी कैलंडर के अनुसार गुरुनानक की जयंती दिवाली के बाद कार्तिक पूर्णिमा को मनाई जाती है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Lighting Fixtures: What message was given to Guru Nanak by his devotees
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: lighting fixtures, guru nanak jayanti 2018, astrology in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

जीवन मंत्र

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved