• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 4

Dasha mata vrat 2020:सारे दुखों को दूर करता हैं दशा माता का यह व्रत, जानें पूरी कथा

दशा माता की पूजा और व्रत हिन्दू धर्म में व्यक्ति और उसके परिवार को समस्याओं से मुक्ति प्रदान करने के साथ-साथ सुख, समृद्धि और सफलता देने वाले माने जाते हैं। परिवार में आर्थिक स्थिति और सुख शांति के लिए महिलाएं दशा माता की पूजा करती हैं। इससे करने से उनके परिवार की बिगड़ी हुई दशा को सुधारने के लिए दशामाता का पूजन किया जाता है।

चैत्र माह के कृष्ण पक्ष की दशमी तिथि के दिन दशामाता का पूजन किया जाता है। यह व्रत आज ही है। महिलाएं कच्चे सूत का 10 तार का डोरा लाकर उसमें 10 गांठ लगाती है और पीपल के पेड़ की पूजा करती है। डोरे की पूजा करने के बाद पूजा स्थल पर नल दमयंती की कथा सुनती है। इसके बाद इस डोरे को गले में बांधती है। पूजन के बाद महिलाएं घर पर हल्दी कुमकुम के छापे लगाती है। व्रत रखते हुए एक ही समय भोजन ग्रहण करती है। भोजन में नमक का प्रयोग नहीं करती है। इस दिन घर की साफ-सफाई करके अटाला, कचरा सब बाहर फेंकने से घर की दशा सुधरती है।

यह है दशा माता की कहानी....

पौराणिक कथाओं के अनुसार एक समय राजा नल और रानी दमयंती सुखपूर्वक जीवन व्यतित कर रहे थे। उनके दो पुत्र थे। राज्य की प्रजा बहुत सुखी थी।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Dasha mata vrat 2020: dasha mata, puja and dasha mata katha
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: dasha mata vrat 2020, dasha mata, puja, dasha mata katha, दशा माता की पूजा, astrology in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

जीवन मंत्र

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved